WHO full form – WHO क्या करती है?

WHO (डब्ल्यूएचओ) का फुलफॉर्म – World Health Organization

दोस्तों आप सभी ने WHO Organization के बारे में जरूर ही सुना होगा। हम सभी जानते हैं कि WHO एक ऐसी संस्था है जो कि लोगों के स्वास्थ्य सुधार से जुड़े कार्यों को करती है। लेकिन हमारे बीच बहुत से ऐसे लोग भी हैं जो कि WHO के फुल फॉर्म को नहीं जानते हैं और ना ही उन्हें ये पता है कि यह संस्था किस तरह से कार्य करती है?

तो, दोस्तों अगर आपको भी WHO का फुल फॉर्म नहीं पता है, और आप जानना चाहते हैं कि WHO का फुल फॉर्म क्या होता है? तथा इसे इस संस्था का क्या कार्य है? WHO की स्थापना कब हुई थी? WHO की स्थापना कहां पर हुई थी? तो आप बिल्कुल भी परेशान ना हो कि आज हम आपके इन सभी सवालों के जवाब देने वाले हैं। इस क्रम में आइये सबसे पहले जान लेते हैं कि WHO full form क्या होता है?

WHO full form in Hindi

WHO (डब्ल्यूएचओ) का फुलफॉर्म – World Health Organization

WHO meaning in Hindi – वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गनाइजेशन.

ये भी जाने

WHO क्या है?

WHO को हिन्दी में ‘विश्व स्वास्थ्य संगठन’ भी कहते हैं। WHO का निर्माण यूनाइटेड नेशन (UN) द्वारा किया गया था। इसकी स्थापना का उद्देश्य सम्पूर्ण विश्व के लोगों के स्वास्थ्य सुधारनें के लिए काम करना है WHO की स्थापना आज से लगभग 70 वर्ष पहले, 7 अप्रैल 1948 को UNO द्वारा किया गया था तथा इसका मुख्यालय जिनेवा ‘ स्विट्जरलैंड’ में स्थित है।

22 जुलाई 1946 में सबसे पहली बार WHO की स्थापना को लेकर बैठक हुई जिसमें 61 देशों के प्रतिनिधियों ने हिस्सा लिया। इन सभी 61 देशों के प्रतिनिधियों ने WHO की स्थापना के लिए समझौते पर Sign किया और WHO की नींव रखी गयी।

WHO क्या करती है?

WHO पूरी दुनिया के स्वास्थ्य Report के लिए ज़िम्मेदार है तथा ये सम्पूर्ण विश्व के लोगो का स्वास्थ्य सर्वेक्षण भी करवाता है। इसके President का कार्यकाल 5 वर्षों का होता है। वर्तमान समय में WHO के President का नाम Tedros Adhanom है। उन्होंने अपने पाँच वर्ष के कार्यकाल की शुरुआत 1 जुलाई 2017 को की थी।

दोस्तों WHO से जुड़ी कुछ महत्वपूर्ण बातें तो हमने जान ली अब आइये आपको WHO की History भी बताते हैं। ये जानने की कोशिश करते हैं कि WHO की शुरुआत कैसे हुई और किसकी पहल पर ये शुरू हुआ।

WHO की शुरुआत कैसी हुई?

अगर बात की जाए WHO के शुरुआत की तो आपको बता दे कि इसके स्थापना करने का विचार 23 जून 1851में ही आना शुरू हो गया था जब ‘इंटरनेशनल सैनिटरी कॉन्फ्रेंस’ हो रहा था। इसके बाद 1851 से लेकर 1938 तक ऐसे बहुत से कॉन्फ्रेंस दुनिया के लगभग सभी देशों के प्रतिनिधियों ने मिलकर किया।

इन कॉन्फ्रेंस में दुनिया मे व्यापक रूप से फ़ैली प्लेग, कॉलरा तथा पीलिया बुख़ार जैसी घातक बीमारियों से निपटने के लिए बेहतर रणनीति बनाने पर मंथन होता रहा। उस समय प्लेग तथा पीलिया ने दुनियाभर में महामारी फैला रखी थी, जिससे दुनियाभर के लिए इन बीमारियों से निपटना एक चिंता का विषय बन चुका था। आख़िरकार इन सभी बीमारियों से निपटने के लिए एक ऐसे संगठन की आवश्यकता महसूस हुई जो कि दुनिया भर के लोगों को इन सभी बीमारियों से Aware करनें के साथ ही उन्हें जरूरी Health Benifit भी दिलवा सके।

इसके बाद जब Second World Waar के बाद 1945 में दुनिया के 52 देशों ने मिलकर UNO की स्थापना के लिए Meeting चल रही थी। तो इसी समय चीन के प्रतिनिधि Szeming Sze तथा नॉर्वे और ब्राज़ील देश के प्रतिनिधियों ने भी एक अंतरराष्ट्रीय स्वास्थ्य संगठन बनाने की बात United Nations के सामने रखी। इसके बाद UNO की मदद से 7 अप्रैल 1948 को इस संगठन की शुरुआत की गई और इसे WHO नाम दिया गया।

तब से WHO की स्थापना दिवस को ही दुनिया भर में ‘विश्व स्वास्थ्य दिवस’ के रूप में मनाया जाता है। WHO की पहली Meating 24 जुलाई 1948 को हुई और इस Meating में साल 1949 में स्वास्थ्य विकास संबंधी कार्यों के लिए 5 Milion US$ का बज़ट पास किया गया।

WHO की स्थापना के बाद सबसे पहले इसके द्वारा कॉलरा, मलेरिया, Sex Transmitted Desease, तथा बच्चो और महिलाओं के स्वास्थ्य सुधार के लिए काम करने की शुरुआत की गयी। इसके बाद दुनिया में जब जब किसी बीमारी ने विकराल रूप लेकर महामारी फैलायी है तब WHO नें युद्धस्तर पर काम करके उसे ख़त्म करने का प्रयास किया है।

दोस्तों इसी क्रम में आइये जान लेते हैं की WHO नें दुनिया भर में स्वास्थ्य संबंधी कौन कौन से महत्वपूर्ण कार्य किये हैं।
साल 1988 में WHO ने दुनियाभर में पोलियो से मुक्ति का अभियान शुरू किया था। WHO का ये अभियान सफ़ल रहा था। और साल 2011 में दुनिया के लगभग 99 प्रतिशत देश पोलियो मुक्त घोषित कर दिए गए।

साल 1990 से 2010 तक WHO ने TV जो कि दुनियाभर में बहुत ही ख़तरनाक रोग के रूप में फैला हुआ था, को भी खत्म करने का बीड़ा उठाया। इस कार्य में भी WHO को काफ़ी हद तक सफलता मिली और साल 2005 तक WHO ने लगभग 70 लाख लोगो को इस बीमारी से बचाया।

साल 2012 में WHO ने बताया कि हर साल लगभग 1 करोड़ 20 लाख लोग सिर्फ़ Unhealthy Eniviornment में काम करने से मर जाते हैं। WHO के इस Report ने दुनिया भर के लोगो का ध्यान प्रदूषित पर्यावरण की तरफ़ खींचा।

WHO ने अपने Fund Support के लिए World Bank से Partnership भी कर रखी है।

ये भी जाने

WHO पोस्ट पर हमारी राय

दोस्तों WHO एक ऐसी संस्था है जो कि सम्पूर्ण विश्व के लोगो के स्वास्थ्य सुधार के लिए काम करती है। इस Organization के द्वारा सबसे ज्यादा ध्यान महिलाओं तथा बच्चों के स्वास्थ्य पर दिया जाता है। WHO की ही बदौलत आज हम बहुत सी जानलेवा बीमारियों से पूरी तरह Safe हैं।
इस पोस्ट में हम ने जाना WHO क्या है, WHO कैसे काम करता, इसकी शुरुआत और WHO full form in Hindi के बारे में. हमे comment में बताये की आपको ये पोस्ट कैसी लगी. कोई सवाल हो तो ज़रूर पूछे.

सीखो सिखाओ, India को digital बनाओ.

Leave a Reply

error: