UGC full form in Hindi – UGC की शुरुआत, काम और main office की जानकारी

देश में उच्च शिक्षा में गुणवत्ता का काम बनाए रखने का जिम्मा यूजीसी का है। विश्वविद्यालयों को मिलने वाले अनुदान के साथ ही रैकिंग का भी जिम्मा यूजीसी के कंधों पर है। विश्वविद्यालय में पढ़ने वाला कोई भी यूजीसी के नाम से नावाकिफ हो, यह हो ही  नहीं सकता। आज हम आपको UGC full form in Hindi और यूजीसी के बारे में विस्तार से जानकारी मुहैया कराएंगे।

UGC full form in Hindi

यूजीसी की फुल फार्म – University Grants Commission

UGC in Hindi – यूनिवर्सिटी ग्रांट कमीशन है।

इसे हिंदी में विश्‍वविद्यालय अनुदान आयोग पुकारा जाता है।

UGC की शुरुआत कब हुई?

यूजीसी 28 दिसंबर, 1953 में अस्तित्व में आया। 1956 में एक्ट के जरिये यूजीसी को एक संवैधानिक संस्‍था का दर्जा हासिल हुआ। इसकी स्‍थापना 1945 में महज तीन विश्वविद्यालयों अलीग़ढ़, बनारस और दिल्ली का काम देखने के लिए हुई थी। 1947 में सभी भारतीय विश्वविद्यालयों को इसके अधीन लाया गया। 1949 में यूनिवर्सिटी एजुकेशन कमीशन ने इसे यूके के माडल पर लाए जाने और पुनर्गठित किए जाने की संस्तुति की।

इस तरह 1953 में यूके माडल पर यह यूजीसी अस्तित्व में आई।  इसका जिम्मा सबसे पहले शांति स्वरूप भटनागर ने संभाला।

ये भी जाने –

UGC का काम क्या है?

विश्‍वविद्यालयी शिक्षा में समन्वय और शिक्षण के तरीकों का स्टैंडर्ड बनाए रखने, परीक्षा और शोध गतिविधियों को बढ़ावा देने का काम यूजीसी के पास है। यह ऐसी संस्‍था है, जिसके पास उच्च शिक्षा के संस्‍थानों में गुणवत्ता बनाए रखने के लिए फंड मुहैया कराने की जिम्मेदारी है।

इसका काम उच्च शिक्षा को बढ़ावा देना, शिक्षा के न्यूतनम मानकों को बनाए रखने के लिए नियम बनाना, विश्वविद्यालयी शिक्षा के क्षेत्र में होने वाले विकास पर नजर रखना, केंद्र और राज्य सरकारों के बीच उच्च शिक्षा को लेकर लिंक का काम करना, विश्वविद्यालयी शिक्षा में सुधार के लिए केंद्र और राज्य सरकार को सलाह देना है।

तीन साल पहले नेशनल इंस्टीट्यूट रैंकिंग फ्रेमवर्क (एनआईआरएफ) लाकर केंद्र ने उच्च शिक्षा संस्‍थानों को उनकी क्वालिटी के आधार पर रैकिंग का काम भी सौंपा है। देश भर के विश्वविद्यालयों की रैकिंग इसमें शामिल है।

UGC पर नहीं अब NET एग्जाम की जानकारी

यूजीसी के पास से नेशनल एलिजिबिलिटी टेस्ट यानी नेट का जिम्मा ले लिया गया है। इसी साल यानी 2018 के दिसंबर माह से यह काम नेशनल टेस्टिंग एजेंसी यानी एनटीए कराएगी। आफ लाइन होने वाली यह परीक्षा नेट इस बार से आन लाइन होने जा रही है। इसके लिए एनटीए ने डेमो का भी लिंक परीक्षार्थियों के लिए मुहैया कराया है।

यह हैं सबसे बड़े अधिकारी –

यूजीसी में चेयरमैन का पद सबसे ऊपर होता है। उनके नीचे एक वाइस चेयरमैन होते हैं। फिर सचिव और उसके बाद वित्तीय सलाहकार का पद आता है।

UGC के member

इस वक्त यूजीसी के चेयरमैन प्रो. डीपी सिंह हैं। उच्च शिक्षा के क्षेत्र में आगरा के रहने वाले प्रो. डीपी सिंह का नाम सम्मान के साथ लिया जाता है। वह नेशनल एक्रिडिटेशन एंड एसेसमेंट कौंसिल यानी नैक के डायरेक्टर थे। उन्होंने वीरेंद्र सिह चौहान की जगह ली, जो पूर्व चेयरमैन वेदप्रकाश के रिटायर होने के बाद से यूजीसी के चेयरमैन का पद संभाल रहे थे।

ये भी जाने –

UGC का ऑफिस का है?

यूजीसी का मुख्यालय नई दिल्ली स्थित बहादुर शाह जफर मार्ग पर है। इसके दो अतिरिक्त ब्यूरो और अन्‍य क्षेत्रीय कार्यालय भी हैं। यह क्षेत्रीय कार्यालय नई दिल्ली के साथ ही हैदराबाद, पुणे, भोपाल, गुवाहाटी, कोलकाता और बंगलूरू में स्थित हैं।

UGC पोस्ट पर हमारी राय

इस पोस्ट में हम ने जाना की UGC क्या है, क्या काम है और UGC full form In Hindi. हमे comment में बताये की आपको ये पोस्ट कैसी लगी. कोई सवाल हो तो ज़रूर पूछे.

सीखो सिखाओ, India को digital बनाओ

Leave a Reply

error: