What is share market in hindi – शेयर मार्किट क्या है?

आज हम जानते है what is share market in hindi.

पर क्या पैसे कमाना आसान काम है?

जवाब सबको पता है!!

नहीं:

पर पैसे कमाने के कुछ ऐसे तरीके है जिनको अगर सही से समझा जाए, तो आप कम टाइम में अच्छे पैसे कमाए जा सकते है.

इन्ही तरीको में सबसे ऊपर आते है

  • Share market
  • Cryptocurrency

क्या शेयर मार्किट से अच्छे पैसे कमा सकते है?

हाँ, Stock market या Share market से अच्छे पैसे कमाए जा सकते है. कुछ example देखते है.

  • Chandrakant Sampat:
  • Rakesh Jhunjhunwala:
  • Radhakishan Damani:

इन तीन के अलावा और भी बहुत से ऐसे indian शेयर मार्केटर है जो बस शेयर market से आज करोड़पति है.

Warren Buffett को कौन नहीं जानता वो भी Share इन्वेस्टर और वर्ल्ड में सबसे ज़्यादा अमीर लोगो की लिस्ट में दूसरे नंबर पर आते है.

Cryptocurrency

अगर आप पैसे में instested है, तो आपने Bitcoin के बारे में सुना होगा. July 2010 में 1 Bitcoin का price 5.17 INR था, और December 2017 में 1241343 INR. अब आप सोच सकते जिन लोगो ने उस टाइम Bitcoin में invest किया होगा उन्हें कितना फ़ायदा हुआ होगा.

आज हम यहां share market in hindi के बारे में बात करेंगे.

आपने काफी बार सुना होगा की लोग बस एक दिन में कुछ शेयर खरीदते बेचते है और कुछ ही घंटो में हज़ारो रुपया कमा लेते है, ये सच है

पर:

शेयर मार्किट risky है, जितना आसान शेयर मार्किट में पैसे कमाना है, उससे ज़्यादा आसान उसमे पैसे डूबना भी है.

बस आप अपने सारे पैसे किसी गलत शेयर में पैसे लगा दीजिये और अपने पैसे डूबते देखिये.

ऐसी गलती हम से न हो इसी के लिए इस share market in hindi में बताया गया है की, share market क्या है, और शेयर मार्किट में शेयर कैसे ख़रीदे.

What is share market in Hindi – शेयर मार्किट क्या है

Share market in hindi - शेयर मार्किट गाइड- जाने शेयर मार्किट के बारे में details में.

Share market in hindi

Share market में shares खरीदे और बेचे जाते हैं। share या stock कंपनी का पार्ट होता है. Stock market को ही share market भी कहा जाता है,

मान लीजिये एक कंपनी के 100 शेयर है, जिसमे से एक शेयर की कीमत 10 रुपया है, 50 शेयर कंपनी के हूद के पास है और बाकी 50 शेयर, Stock market में आते है. अब आपने उस कंपनी के 2 शेयर 20 रुपया देकर खरीद लिए.
तो आप अब उस कंपनी के 2 % के मालिक है.

अगर कंपनी का फ़ायदा होता है और उसके 1 share 10 से 12 रुपया का हो जाता है तो आपको 4 रुपया का फ़ायदा होगा जब आप उसे शेयर को आगे 12 रुपया का बेचेंगे और अगर कंपनी नुक्सान में जाती है और उसे के share का price घट कर 8 रुपया का रह जाता है तो, आपको नुक्सान होगा 4 रुपया का, जब आप उसे 8 रुपया के बेचेंगे.

हालांकि companies के shares के अलावा, और चीज़े जैसे bonds, mutual funds को भी stock market में ख़रीदा या बेचा जाते है।

अब जानते है share market in hindi डिटेल में

Share market दो प्रकार के होते हैं:

Primary share market

primary share market में company के शेयर को पहली बार Issue किया जाते है. कंपनी को जब भी सबसे पहले share market में list किया जाता है और Stock issue होते है, तो ये सब primary share market में ही होता होता है.

जब company पहली बार shares को बेचती है, तो उसे Initial Public Offering या IPO कहा जाता है, जिसके बाद company सार्वजनिक हो जाती है| IPO के लिए जाते समय, company को अपने बारे में, उसके financials, promoters, उसके businesses, stocks की जानकारी देनी होती है.

Secondary share market

Secondary market में, पहले से listed कम्पनीज के शेयर को खरीदकर और बेचकर trading की जाती है।
जब हम normaly शेयर मार्किट में पैसा लगाने की बात करते है तो, हम secondry शेयर market की ही बात कर रहे होते है.

Secondy शेयर मार्किट में ही एक स्टॉक या share की कीमत लगाई जाती है.
और उसे फायदे या नुक्सान के साथ ख़रीदा या बेचा जाता है.

बेसिक terms जो शेयर market में इस्तेमाल होती है;

Share या Stock – कंपनी जब भी शेयर market में आती है तो हुद को छोटे छोटे पार्ट में devide करती है, जिसे हम शेयर या stock बोलते है.

Stock exchange – Stock exchange वो institution होता है, जो की स्टॉक को रखने, बेचने या खरीदने के लिए इस्तेमाल होता है.
India में दो Stock exchange है
BSE – Bombay Stock exchange.
NSE – National Stock exchange .

IPO – Initial Public offering – IPO में companies के Share बिकने के लिए लाए जाते है.

Demat Account – India में शेयर या securities को रखने के लिए हमे उन्हें Dematerialized (Digitally) Demat अकाउंट में रखा जाता है, न की certificate बना कर, paper form में. आप अपने सारे शेयर इसी demat account में चैक करेंगे.

Face value – ये कसी भी Stock की कीमत होती है.

IOC – Immediate और cancel – आप जिस जितने का शेयर को खरीदना या बेचना चाहते है, अगर उतने का buyer या seller मिल जाता या नहीं मिलता है तो आर्डर तभी compelete हो जाता है, या cancel हो जाता है.

Day order – Day order पुरे दिन के लिए मान्य होते है

Market Order – Market आर्डर का मतलब है की आप जो शेयर खरीदना चाहते है, वो उस टाइम के Market price पर खरीद लेंगे.

Limit Order – Limit आर्डर में आप बताते हो की आपको ये शेयर कम से कम कितने में खरीदना या ज़्यादा से ज़्यादा कितने में बेचना है.

Divident – ये पेमेंट होती है जो corparation शेयर holder को देते है pofit के रूप में, जब भी corparation को फ़ायदा होता है. या फिर वो दुबारा इसे bussiness में लगा देते है जिसे वो retain earning कहते है.

Dematerializing – Securities या शेयर को physical form से, Electronic form में convert करना.

Equity Stocks – इसका सीधा सा मतलब है, कसी भी कंपनी के stocks या शेयर को खरीद क्र रख लेना, उसके divident या Capital gains से profit लेने के लिए.

Broker – कोई भी जो आपके लिए Share को ख़रीदे या बेचे और आपसे उसकी fee ( Commision ) ले.

Day trading – एक ही दिन में share को खरीद कर उसी दिन बेच देना. share को खरीदने का time 9 : 15 am तो 3 :15 pm है. अगर आप स्टॉक को एक ही दिन में खरीद कर उसी दिन बेचते है तो ये Day trading कहलाती है.

Day traders – जो लोग Day trading करते है.

Portfolio – आपके ख़रीदे हुए stock का record एक account में रखना portfolio कहलाता है. आपके porfolio में आप 1 शेयर से लेकर जितने चाहे उतने शेयर रख सकते है.

Assets – जो भी कुछ कंपनी के नाम पर है cash , equipment ,technology , land . वो सब उसके assets में आता है.

lien amount – liet amount का मतलब है. अपने selected amount को permission देना किसी third party को इस्तेमाल करने की, फिर आप उस amount को अपने लिए इस्तेमाल नहीं कर सकते . ये Savaing account से trading acount में पैसे transfer करने के लिए इस्तेमाल होता है.

Blue chip stock – किसी भी बड़ी company के स्टॉक, जिसकी finanantial condition achi है, और ये अपने शेयर holder को सालो से उनके divident का profit दे रहे होते है, market में इनकी value सालो से बनी हुई होती है.

Bonds – bonds किसी कंपनी या government द्वारा Invester को दिए जाते है, जो की एक specific amount और time के लिए fixed होते है.

Close price – Final amount जिस पर company का शेयर उस दिन close हुआ हो.

Market capitalization – किसी भी company के total शेयर की कीमत. ये calculate होती है. इस की company के कितने शेयर है और उसकी एक शेयर की कीमत शेयर मार्किट में कितनी है. ये comapny की पूरी value को बताता है.

Share Market में invest करने के लिए Requirement

 Share market in hindi में जानेगे की india में stock में invest करने के लिया क्या चाहिए, नीचे लिखी हुए procedures को follow किया जाना चाहिए।

PAN card और Aadhar card होना चाहिए

India में invest करने के लिए PAN card और Aadhar card होना जरुरी है। यह market regulator, Securities and Exchange Board of India (Sebi) के साथ account खोलते समय KYC (know your client) procedure के लिए जरुरी है। इसके अलावा, government ने एक Demat account खोलने के नए rules के तहत एक cancel cheque के साथ छह महीने की bank statement दिखाना जरुरी कर दिया है।

2 PASSPORT साइज फोटोग्राफ

आपको अपने Broker सर्विस को Demat account खुलवाने के लिए 2 passport साइज फोटोग्राफ भी देने होंगे.

Broker

कोई व्यक्ति सीधे stock market में shares खरीदने या बेचने के लिए नहीं जा सकता है। Brokers के माध्यम से shares खरीदना और बेचना होता है| वे stock exchanges पर trade करने के लिए Sebi द्वारा registered और authorised individuals, companies या agencies हो सकती हैं। Brokers सहायता करने के लिए brokerage fee या brokerage charge करेंगे।

Demat account होना चाहिए

एक बार आपके पास broker हो जाने के बाद, next step एक demat और trading account खोलना है। यह account आपके द्वारा purchase किये गए stocks को hold रखेगा और उन्हें आपके नाम पर पर दिखाएगा । Shares को physical form में नहीं रखा जा सकता है और वे dematerialised या demat account में ही रखे जा सकते है ।

आप अपना demat और trading account online brokers के ज़रिये ले सकते है जैसे की ICICI Direct, HDFC Security, Angle broking, Indiabulls, etc.

Trading account

ये आपके शेयर के खरीदने या बेचने के order को पूरा करता है, ये demat और savaing account से link होता है.

ये demat account से link होता है, share को demat account में डालने या निकालने के लिए.
ये savaing account से link होता है, आपके ख़रीदे या बेचे stock के पैसे को account में डालने या निकालने के लिए.

Saving account

ज़ाहिर सी बात है आपको पैसो का transection करने के लिए एक saving account की ज़रूरत होगी.

Share market में शेयर को खरीदने का तरीका

Share को खरीदने के दो तरीके है

हम पहले ऑनलाइन तरीका समझते है.

Online शेयर को खरीदने के लिए आपको पहले किसी शेयर broking service में अपना account खोलना होगा.

वो broking service आपका demat और trading दोनों account बना देंगे. और आपको आपकी ID और password देंगे, जिस से आप अपने acount में login कर पाए और Stock को खरीद या बेच पाए.

Online trading के लिए.

अपने account में login करे

आपकी दी हुई id और password से login करे.

Trading account में Fund transfer के लिए click करे,

आपको सबसे पहले अपने ट्रेड़िंग account में पैसे डालने होंगे. अगर आप पहली बार शेयर खरीद रहे ह तो 500 INR से शुरू करे.

liet amount पर क्लिक करे -अपने saving account से trading में पैसे डालने के लिए.

आपको अपने saving account में deposit Fund में से कुछ पैसे जैसे की 500 रूपए को Liet सेलेक्ट करे. मतलब की आप अपने 500 रूपए इस्तेमाल करने की permisssion दे रहे है अपने broker को.

पैसे successfully transfer होने के बाद

फिर अपने पैसे को successfully saving account से trading account में transfer करे.

Trade order पर क्लिक करे.

Order करने के लिए trade Order पर click करे.

फिर कंपनी का नाम search करे

आपको जिस भी कंपनी का शेयर खरीदना है, उस का नाम select करे.

NSE या BSE में से एक चुने.

आप NSE या BSE में से एक select करे, जिस से भी शेयर trade करना है.

फिर buy या sell ऑप्शन में से एक को चुने.
फिर आपको अगर शेयर खरीदना है तो Buy , और बेचने के लिए sell पर click करे.

उसके बाद IOC ,Day या intraday चुने.

IOC – IOC – Immediate और cancel – आप जिस जितने का शेयर को खरीदना या बेचना चाहते है, अगर उतने का buyer या seller नहीं मिलता या नहीं मिलता है तो आर्डर तभी compelete हो जाता है, या तभी cancel हो जाता है.

Day order – Day order पुरे दिन के लिए मान्य होते है

Intraday – Intraday में हम शेयर को उसी दिन खरीदते और थोड़े से नुक्सान या फायदे के साथ उसी दिन बेच देते है

फिर market Order या limit Order सेलेक्ट करे

Market Order – Market आर्डर का मतलब है की आप जो शेयर खरीदना चाहते है, वो उस टाइम के Market price पर खरीद लेंगे.

मतलब आपको relience के 10 शेयर खरीदने है और एक शेयर के Market price 900 रूपए है तो आप सीधा 9000 देकर 10 Share खरीद लेंगे.

Limit Order – Limit आर्डर में आप बताते हो की आपको ये शेयर कम से कम कितने में खरीदना या ज़्यादा से ज़्यादा कितने में बेचना है.

अब अगर आपको relience का शेयर खरीदना है, पर आपको लगता है की में इसे 890 रूपए में खरीद सकता हु, तो आप Limit price 890 रूपए select करेंगे, फिर आपका आर्डर लाइन में लग जाएगा, अगर उस दिन Relience के शेयर के price 890 रूपए पहुंचा तो आपका Order पूरा हो जाएगा और आपके 8900 रूपए कट जाइए और 10 शेयर आपके हो जाइए.

और अगर वो शेयर 890 नहीं पहुँचता है तो आपका आर्डर दिन के आखिर में cancel हो जाएगा.

शेयर की quantity select करे

आपको जितने शेयर खरीदने है, उतने सेलेक्ट करे.

Submit बटन पर click करे

जब आप अपने select लिए शेयर को खरीदने को तयार हो तो submit पर क्लिक करे.

Offline trading के लिए

किसी broker की मदद से या टेलीफोन से भी शेयर को खरीद सकते है, आपको अपने broker को फ़ोन करना होगा या उसके ऑफिस पर जाकर अपने शेयर की detail देनी होगी, वो आपके लिए आपका शेयर खरीद या बेच देंगे.

First time share marketing के लिए tips

बहुत से लोग सोचते हैं कि stock market एक खज़ाने के box की तरह है| एक बार आप इसे खोल लेते हैं, तो बस आमिर हो जाएगे । जबकि, यह बात है, ऐसा नहीं है।

stock market से आप अमीर बन सकते है, लेकिन यदि आप समझदारी से invest करते हैं तो| आपको इस तरह से invest करते हुए चलना है की अगर एक तो कंपनी के शेयर कभी कम हो जाए, तब भी आप दूसरे stock से अपना profit निकालते रहे.

1. Start करने से पहले तैयारी में समय दें

Stock market में invest करने से पहले पूरी जानकारी ले, जिन लोगो को इस का exprience है उन से advice ले, Offline और online दोनों ही जगह पर आपको सिखने के लिए बहुत से option मिल जाएगे, उन्हें पढ़े, समझे और सीखते रहे.

2. अपने investment options को जानें

एक invester के रूप में आपके पास बहुत से option मौजूद है जैसे की शेयर, commudities ,Mutual funds या bonds . सबको समझे और अपने ज़रूरत के हिसाब से अपने Investment option को चुने.

3. एक roadmap रखें

Stock market में, सिर्फ पैसे लगाना ही काफी नहीं है | आपको एक अच्छे financial plan की जरुरत है| अपने पैसो को invest और से पहले अपनी financial situation, cash flow और risk लेने की capacity पर विचार करें।

4. अपने पास backup plan रखे

जैसे कि stock market में investment करना पूरी तरह से safe नहीं हो सकता है, इसलिए हमेशा यह सलाह दी जाती है कि एक emergency plan भी रखें। यह ज्यादातर एक emergency fund के रूप में जाना जाता है|

यह कुछ ऐसा है जिसमें आप अपने investment के साथ-साथ ही contribute कर सकते हैं। इस fund का role emergency में पैदा होने वाले case में आपकी देखभाल करना है। आपको उस case में अपने investment को निकालने को ज़रूरत नहीं है लेकिन बजाय इसके आप इन पैसो के साथ अपनी urgent जरूरतें पूरी कर सकते हैं।

5. यदि जरुरी हो, तो professional help लें

आप अगर आप पहेली बार share market में invest कर rhe हैं तो, ये हो सकता है कि आप market की बारीकियों से अच्छी तरह से न जानते हों। ऐसे समय में, आप एक professional investment advisor से help ले सकते हैं| एक investment advisor या financial planner आपको अपने goals को पहचानने और सही से समझनें में मदद करेंगे.

 Share market in hindi guide पर हमारी राय

कभी किसी की बातो न आये.
सबकी सुने, पर करे व्ही जो आपको सही लगे.

Share बाजार में आपको हर तरह के लोग मिल जाएगे.
ऐसे भी होंगे जो लाखो कमाते है, तो ऐसे भी होंगे जिन्होंने लाखो गवाए है.

आप share market में कितना कमा पाते है, ये बस आप पर निर्भर करता है.
हारा हुआ आदमी सबको डराता है और जीता हुआ सबको हौसला देता है.

तो ऐसे लोगो से हमेशा दूर रहे तो जो आपको गलत सलहा दे, या आपको आगे बढ़ने से रोके.

सबकी सुने, TV देखे, Companies की history पढ़े, टॉप investors की advice ले.
और शेयर बाजार में धीरे धीरे invest करे.

हमेशा उन्ही पैसो को invest करे, जो आपकी ज़रूरत के न हो.

हमे comment में बताए की आपको हमारी पोस्ट What is share market in hindi guide कैसी लगी.

कोई सवाल हो तो ज़रूर पूछे.

सीखो सिखाओ, India को digital बनाओ

28 Comments

  1. naresh February 22, 2018
    • sam February 22, 2018
  2. Y. s. chauhan June 5, 2018
    • Umair habib June 9, 2018
  3. Atul sharma June 21, 2018
    • Umair habib July 11, 2018
  4. Shiv prasad July 24, 2018
    • Umair habib July 24, 2018
  5. Subash chandr gupta July 29, 2018
    • Umair habib August 10, 2018
  6. Juber Rao July 31, 2018
    • Umair habib August 2, 2018
  7. Preet July 31, 2018
    • Umair habib August 2, 2018
  8. दिनेश August 9, 2018
    • Umair habib August 10, 2018
  9. ravi kumar August 29, 2018
    • Umair habib August 29, 2018
  10. ravi kumar August 29, 2018
    • Umair habib August 29, 2018
  11. Sheikh Qaiser August 31, 2018
    • Umair habib August 31, 2018
  12. अनिल शर्मा September 3, 2018
  13. karan singh chouhan October 10, 2018
    • Umair habib October 11, 2018
  14. Ashish October 11, 2018
    • Umair habib October 11, 2018

Leave a Reply

error: