SDM full form – SDM क्या है और जाने कैसे बने?

हमारे समाज मे प्रशासनिक अधिकारियों को एक अलग ही सम्मान की दृष्टि से देखा जाता है। प्रशासनिक अधिकारियों का हमारे समाज मे एक अलग ही रुतबा होता है। SDM की पोस्ट भी एक उच्च प्रशासनिक Officer के रूप में जानी जाती है। दोस्तों SDM के बारे में हम सभी इतना जानते है कि ये एक प्रशासनिक Officer की पोस्ट होती है, लेकिन क्या आप जानते हैं कि SDM Full form तथा एक एसडीएम का क्या काम होता है और SDM कैसे बना जाता है।

अगर आप ये सभी बाते नहीं जानते है तो आप बिल्कुल भी परेशान ना हो क्योंकि आज हम आपको ना सिर्फ SDM का फुलफॉर्म बताने वाले है बल्कि आपको इससे जुड़ी अन्य जानकारी भी देने वाले हैं।

इस क्रम में आइये सबसे पहले जानते हैं SDM का फुलफॉर्म.

SDM full form in Hindi

आज हम जानेगे SDM full form हिंदी में.

SDM full form

SDM – Sub Divisonal Megistrate

In Hindi – सब डिविज़नल मजिस्ट्रेट

इसका हिन्दी मे अर्थ होता है- उप प्रभागीय न्यायाधीश.

दोस्तों, हमने SDM के फुलफॉर्म को तो जान लिया अब आइये आपको बताते हैं कि SDM का क्या काम होता है और ये अपने काम को किस तरह से करते है।

SDM का काम?

भारत के हर District में तैनात SDM का मुख्य काम ज़िलें के Range में आने वाली ज़मीन की खरीद और बिक्री का हिसाब रखना होता है। किसी भी ज़िलें में जितनी भी ज़मीन बिकती है या खरीदी जाती है, उन सब का लेखा-जोखा SDM के पास मौजूद होता है।

ज़िलें के अंदर ज़मीन संबंधी सभी व्यापार पर SDM को नज़र रखनी होती है। इसके साथ ही ज़मीन की बिक्री और खरीद में सरकार द्वारा लिए जाने वाले TAX को भी Recover करनें की ज़िम्मेदारी SDM की ही होती है। SDM ये सभी काम हर तहसील में तैनात तहसीलदार की मदद से करता है। तहसीलदार, अपने क्षेत्र में बिकने वाली सभी ज़मीन का हिसाब अपने पास रखता है और इसे नियमित रूप से SDM की देखरेख में भी रखता है।

ये भी जाने – DGP का फुल फॉर्म और DGP के काम?

ज़मीन के व्यवसाय की Detail रखने के साथ एक SDM को और भी कई काम करने पड़ते हैं। Marriage Register करना, Wepon आदि के License ज़ारी करना तथा ज़िलें में Election कराना, आदि कार्यो को भी SDM को करना पड़ता है।

एक ज़िलें मे SDM की भूमिका काफ़ी महत्वपूर्ण होती है।

SDM कैसे बने?

हमारे देश मे हर साल लाखों युवा DM तथा SDM बनने का सपना अपने आँखों मे लिए हुए मिल जायेंगे। लेकिन आपको बता दे कि एक SDM अधिकारी बनना इतना आसान नहीं है। इसके लिए आपको मेहनत करने के साथ ही धैर्य रखने की भी जरूरत होती है।

SDM बनने का क्या Process है?

आपको SDM बनने के लिए राज्य सरकार द्वारा ली जाने वाली PCS परीक्षा को पास करना होगा। ये EXAM हर राज्य में ‘लोक सेवा आयोग’ यानी कि ‘PCS’ द्वारा कराई जाती है। अगर आप SDM बनना चाहते है तो आपको इस EXAM को अच्छे नम्बरों से पास करना होगा ताकि आप अपनी एक अच्छी रैंक सुनिश्चित कर सकें। जब आप PCS की परीक्षा में अच्छा रैंक लाने में सफ़ल होंगे तब ही आपको SDM बनने का मौका दिया जाता है।

अब आइये जानते है कि SDM बनने के लिए दिए जाने वाले PCS Exam की Eligibility क्या होती है?

अगर आप एक SDM अधिकारी बनना चाहते है तो सबसे पहले आप Graduation Complete करें क्योंकि बिना Graduation के आप PCS के Exam में नहीं बैठ सकते है। किसी भी Stream से Graduation करने के बाद आप PCS का Exam दे सकते हैं।

ये भी जाने – NET एग्जाम क्या है, कैसे करे तयारी?

इसके अलावा PCS Exam में बैठने के लिए आपके पास और भी कुछ Eligibility होनीं चाहिए। जैसे कि-

  • Graduation में न्यूनतम 55 Persent Marks होने चाहिए।
  • आपकी Age 40 साल से ज्यादा नहीं होनीं चाहिये।

SDM के लिए exam

प्रत्येक राज्य द्वारा ली जाने वाली PCS परीक्षा को पास करने के लिए आपको 3 चरण से गुजरना पड़ता है।जो कि इस प्रकार है-

  1. प्रारंभिक परीक्षा – इसमें सबसे पहले होती है प्रारंभिक परीक्षा, जिसे की PCS का PRE Exam भी कहते हैं। यह Exam बहुविकल्पीय प्रश्नों परआधारित होता है। इस Exam को पास करने के बाद ही आप इसके अगले चरण की परीक्षा दे सकते हैं।
  2. मुख्य परीक्षा- Pre Exam पास करने के बाद आपको PCS की मुख्य परीक्षा देनी होती हैं। इसे PCS Mains Exam भी कहते हैं। ये Exam Written में होती है।
  3. Interview – PCS के Exam का अंतिम चरण होता है Personal इंटरव्यू। Main Exam में सफल हुए Candidate को Personal Interview देने के लिए बुलाया जाता है। Interview के बाद ही अंतिम रूप से सफल Candidate की घोषणा की जाती है।

ये भी जाने –  ITI क्या है और कैसे करे?

इन तीन चरण के Exam में आये Marks के अनुसार ही Candidate को Rank दी जाती है।Rank के अनुसार ही Candidate का चयन राज्य सरकार के विभिन्न प्रशासनिक पदों के लिए किया जाता है। इस Exam में High Ranking वाले Candidate को ही SDM बनने का मौका दिया जाता है।

इस पोस्ट पर हमारी राय

SDM, किसी भी ज़िलें का एक महत्वपूर्ण अधिकारी होता है। काफ़ी ज़िम्मेदारी वाले इस पद को संभालने वाले व्यक्ति का चुनाव भी काफ़ी सावधानी से किया जाता है। इसीलिए इसकी परीक्षा काफ़ी कठिन मानी जाती है।
हमे यह SDM के बारे में काफी कुछ जाना जैसे की SDM full form, Exam और eligibility. आपका कोई सवाल हो तो comment में ज़रूर पूछे.

सीखो सिखाओ, India को digital बनाओ

One Response

  1. RANJEET KUMAR December 7, 2018

Leave a Reply

error: