RIP Full Form: RIP का क्या मतलब होता है?

RIP full form‘Rest in Peace’.

सभी ने कभी ना कभी लोगो के द्वारा ‘RIP’ शब्द बोलते हुए सुना ही होगा। कई बार तो हमनें खुद भी इस Word का Use किया होगा। लेकिन हममें से बहुत कम लोग ही ‘RIP’ का सही मतलब जानते होंगे। इसीलिए आज हम आपको RIP Full form बताने के साथ ही इसके मतलब को भी समझाने वाले हैं।

RIP Full Form in Hindi

RIP in Hindi and RIP full form

RIP full form in Hindi

RIP full form‘Rest in Peace’.

अगर इसके हिंदी अर्थ को समझने का प्रयास करें तो इसका हिंदी में मतलब होता है ‘ शांति में आराम करो’ । इस शब्द का मतलब है ‘आत्मा को शांति दे’.

इस शब्द का प्रयोग तब अपनी संवेदना को ज़ाहिर करनें के लिए किया जाता है जब कोई दुखद घटना घटित हो जाती है या फिर किसी की मृत्यु हो जाती है। बीते कुछ सालों में लोगो द्वारा Social Media पर इस शब्द बहुत प्रयोग होते देखा गया है।

जब भी किसी दुखद घटना या किसी की मृत्यु की ख़बर Social Media के किसी Plateform पर दिखायी पड़ता है तो लोगो द्वारा इस शब्द का प्रयोग करते हुए अपनी संवेदना को जाहिर करते देखा गया है।

RIP इस इस समय काफ़ी famous शब्द बन चुका है।

RIP शब्द के खोज का श्रेय Christian धर्म के लोगो को जाता हैं। जब Christian धर्म मे किसी व्यक्ति की मृत्यु होती है तो उन्हें कब्र में दफ़न किया जाता है। जिस ताबूत में उन्हें दफ़न किया जाता है उसके ऊपर लिखा होता है ‘Rest In Peace’ जो कि Full form है RIP का।

RIP की शुरुआत यहीं से हुई है, जिसका प्रयोग मृत व्यक्ति के प्रति संवेदना प्रकट करने के लिए किया जाता है।

Latin भाषा मे RIP का Full form है- Requiescat in pace.

बहुत से लोगो द्वारा RIP का Fulform ‘Return If Possible’ माना जाता है। जिसका हिंदी में अर्थ होता है कि ‘अगर सम्भव हो तो वापस लौट आओ’। लेकिन आपको बता दे कि RIP का सही फुलफॉर्म ‘Rest In Peace’ ही होता है।

RIP की History

सही रूप से RIP शब्द का प्रयोग ईसाई तथा मुस्लिम धर्म के लोगो द्वारा ही किया जाता है। क्योंकि इन दोनों ही धर्मों में किसी इंसान की मृत्यु के बाद उसे ज़मीन में दफ़न किया जाता है।

इन धर्मों में मान्यता होती है कि इंसान को कब्र में तब तक शांति से रहने की जरूरत होती है, जब तक कि God उनके कर्मों का फ़ैसला न कर दें। इस लिए इस धर्म मे मृत्यु के बाद उस समय तक के लिए व्यक्ति की आत्मा को शान्ति से रहने के लिए Rest In Peace शब्द का प्रयोग किया जाता है।

अतः RIP मुख्यतः ईसाई धर्म तथा मुस्लिम धर्म के लोगो के द्वारा मरे हुए व्यक्तियों की आत्मा की शान्ति के लिए प्रयोग किया जाता है क्योंकि, ये लोग मृत्यु के बाद शरीर को कब्र में दफ़न करते हैं।

RIP का आज के time में इस्तेमाल

Social Media के चलते अब हर किसी द्वारा इस शब्द का व्यापक प्रयोग करते देखा जा रहा है। जब भी किसी की मृत्यु की ख़बर Social Media पर दिखायी पड़ती है तो हर व्यक्ति ‘RIP’ लिखकर ही व्यक्ति की आत्मा की शान्ति की कामना करता है।

RIP full form पर राय

दोस्तों आशा करते है कि अब आपको RIP full form पोस्ट पसंद आया होगा। अगर आपके पास कोई महत्वपूर्ण सुझाव तथा जानकारी हो तो हमे Comment कर के जरूर बताएं।

Leave a Reply

error: