RCC full form in Hindi – आरसीसी क्या मतलब है?

दोस्तो आप ने RCC का नाम तो सुना ही होगा। अक्सर लोग घर इस किसी Building के निर्माण के समय इस शब्द का Use जरूर करते हैं। RCC शब्द का Use हमेशा घर की छत या स्लैब पड़ते समय किया जाता है। आपने भी कभी ना कभी इस शब्द का Use जरूर किया होगा, लेकिन क्या आप जानते है कि RCC full form क्या है और इसका अर्थ क्या होता है।

अगर आप RCC का फुलफॉर्म और इसका मतलब नहीं जानते तो आप बिल्कुल परेशान ना हो क्योंकि आज हम आपको इसके बारे में सारी जानकारी देने वाले हैं।

इस क्रम में आइये सबसे पहले जान लेते हैं कि RCC का फुलफॉर्म क्या होता है।

RCC full form in Hindi

RCC का फुलफॉर्म – Rienforcment Cement Concrete

RCC meaning in Hindi – रेन्फोर्समेंट सीमेंट कंक्रीट

इसे हिन्दी मे प्रबलित सीमेंट कंक्रीट कहा जाता है। जब सीमेंट कंक्रीट में लोहे के सरिया द्वारा प्रबलन दिया जाता है तो उसे प्रबलित सीमेन्ट कंक्रीट कहते हैं।

RCC सिविल इंजीनियरिंग Field से जुड़ा हुआ शब्द है। RCC का पूरा मतलब जानने से पहले आपको Concrete क्या होता है ये समझना होगा। दरअसल Concrete सीमेन्ट, गिट्टी, बालू और पानी का मिश्रण होता है। इसका Use घर बनाते समय छत डालने या कोई स्लैब ढालने में किया जाता है। Building बनाने के लिए Concrete काफ़ी महत्वपूर्ण और मजबूत पदार्थ होता है।

ये भी जाने – ST Full form in Hindi

जब किसी Building या मकान का छत डाला जाता है तो उसे Concrete की मदद से ही डाला जाता है। सीमेंट, गिट्टी तथा बालू के मिश्रण को साधारण कंक्रीट या फिर ‘CC’ कहा जाता है। यहाँ CC का फुलफॉर्म ‘Cemenet Concrete’ है।

जब इस ‘CC’ में सरिया यानी कि ऑयरन डाल दिया जाता है तो इसे RCC यानी कि Reinforcement Cement Concrete’ कहते हैं। आपने कई बार Buildings की छत पड़ते हुए देखा होगा कि वहाँ पर छत डालने से पहले एक लोहे की सरिया का जाल से बनाया जाता है।इसके बाद उस जाल के ऊपर ही सीमेंट कंक्रीट डाली जाती हैं। जब इस सीमेंट कंक्रीट के बीच मे इस तरह लोहे के सरिए की जाल डाली जाती है तो इस RCC कहते हैं, तथा उस लोहे के जाल को Reinforcement Bar कहा जाता है।

RCC के फ़ायदें-

हमने ये तो जान लिया कि जब सीमेंट कंक्रीट के बीच मे लोहे के सरिए की जाल डाली जाती है तो इसे RCC कहते हैं। लेकिन अब आपके मन मे ये सवाल भी जरूर उठ रहा होगा कि आख़िर छतों में ये लोहे के सरिए की जाल क्यों डाली जाती है। इसीलिए अब हम आपको इसके पीछे का भी कारण बताने वाले हैं।

सीमेंट कॉन्क्रेट में लोहे का ये जाल बनाने का मक़सद कंक्रीट की तनन क्षमता को बढ़ाना होता है। साधारण कंक्रीट Compresson में तो काफी मजबूत होती है लेकिन जब उस पर तनन बल यानी Tension Force पड़ता है तो वहाँ पर सीमेंट कंक्रीट काफी कमज़ोर पड़ जाती हैं। ऐसे में अगर इसमे लोहे की सरिया का एक जाल डाल दिया जाता है तो ये तनन में भी काफ़ी मजबूत बन जाती है।

ये भी जाने – RAS का मतलब क्या है?

इस लोहे के जाल को सीमेंट कंक्रीट के साथ मिलाकर छत बनाने से Building का Structure कभी भी एक साथ नहीं गिरता है। अगर Building को कोई नुक़सान भी होता है या फिर वो गिरती है तो वो अचानक नहीं गिरती बल्कि थोड़े-थोड़े हिस्से में Devide होकर हज गिरती हैं। ऐसे में दुर्घटना के समय काफी Safety रहती है।

RCC का इतिहास-

RCC छत बनाने का इतिहास काफी पुराना है। पुराने समय में जब Iron लोगो के पास मौजूद नहीं था तब वो Bamboo को Iron की सरिया की ही तरह जाल बनाकर छत बनाने के लिए प्रयोग करते थे।

Present Time के कंक्रीट का इतिहास सन 1853 में शुरू हुआ जब यहां के एक Buisnessman ने पेरिस में पहली Rienforced Building का निर्माण शुरू किया। इसके बाद सन 1854 में इंग्लैंड के Building निर्माता William B. Wilkison द्वारा Building Construction के लिए RCC का Use किया गया था। उसके बाद Building के Construction के लिए तेज़ी से RCC का use हर जगह होते हुए देखा गया। आज के समय मे लगभग हर घर के निर्माण में इस Technology का Use किया जा रहा है।

ये भी जाने – PNR का आखिर मतलब क्या है?

इस पोस्ट पर हमारी राय

RCC की खोज ने Building Construction की दुनिया मे काफी बदलाव ला दिया है। आज हम जो गगनचुंबी इमारत बनते हुए देख रहे है ये सभी RCC की ही वज़ह से हैं। RCC की खोज़ के पहले इस तरह की ऊँची इमारतें बनाना काफी मुश्किल काम हुआ करता था। लेकिन अब RCC की ही बदौलत हम आसानी से कोई भी इमारत अपने अनुसार कितनी भी ऊँचाई का बनाने में सफल हैं।

हमे कमेंट में ज़रूर बताये की आपको हमारी पोस्ट RCC full form कैसी लगी?
कोई सवाल हो तो ज़रूर पूछे.

सीखो सिखाओ, India को digital बनाओ.

Leave a Reply

error: