PO full form – BANK PO एग्जाम की जानकारी?

PO का फुलफॉर्म – Probationary Officer

दोस्तो आप सभी ने Bank के PO (पीओ) Post के बारे में जरूर ही सुना होगा। अक्सर लोग Bank के इस पद को पाने के लिए काफ़ी तैयारी भी करते हैं। लेकिन क्या आप जानते हैं कि Bank के PO का फुलफॉर्म क्या होता है? तथा एक Bank के PO का क्या काम होता है? तथा आप किस तरह से आप किसी Bank में PO की Job पा सकते हैं?

अगर आपके आपके पास इन सभी सवालों के जवाब नहीं है और आप जानना चाहते हैं कि आखिर पी ओ का फुल फॉर्म क्या होता है? तथा किस तरह से आप किसी बैंक में PO बन सकते हैं? तो आप बिल्कुल भी परेशान ना हों क्योंकि आज हम आपको इस Article में ना सिर्फ बैंक के PO के पोस्ट का फुल फॉर्म बताएंगे बल्कि इससे जुड़े अन्य सभी महत्वपूर्ण जानकारियां भी आपको देंगे।

इस क्रम में आइए सबसे पहले जान लेते हैं कि PO full form क्या होता है?

PO full form in Hindi

आज हम जानेगे PO full form in Hindi और PO officer के काम के बारे में.

PO full form

PO का फुलफॉर्म – Probationary Officer

PO meaning in Hindi

(प्रोबेशनरी ऑफिसर)

इसे हिन्दी में ‘प्रमाणीकरण अधिकारी’ भी कहा जाता है। किसी भी Bank में Probationary Officer एक सम्मानित और अधिकारी Level का पद होता है। साधरणतः एक या दो साल तक PO के पद पर काम करने के बाद Candidate को Bank के किसी Branch का Assistant Manager बना दिया जाता है।

PO रहते हुए 2 साल तक उसे Training भी दी जाती है ताकि उन्हें आगे चलकर किसी Bank का Assistant Manager बनाया जा सके।

ये भी जाने

PO के लिए एग्जाम

दोस्तो Bank में PO के पद के लिए हर साल Exam Organize कराए जाते हैं। इस पद के लिए प्रत्येक वर्ष लाखों Candidate Exam देते हैं लेकिन उनमें से कुछ ही Bank के इस सम्मानित पद की नौकरी हासिल कर पाते हैं। तो दोस्तों अगर आप भी किसी Bank में ‘PO’ का पद प्राप्त करना चाहते हैं तो इसके लिए आपको काफ़ी तैयारी करने की जरूरत होगी।

इस क्रम में आइये आपको ये भी बताते हैं कि आप किस तरह से किसी Bank में PO की नौकरी कर सकते हैं। यहाँ पर हम सबसे पहले ये जानेंगे कि BANK के PO के Exam के लिए Eligibility क्या होती है? यानी कि कौन लोग Bank में PO बनने के लिए होने वाले Exam को दे सकते हैं।

Bank PO के लिए Eligibility –

दोस्तों Bank में PO बनने के लिए सिर्फ़ वही लोग Exam दे सकते हैं जो कि Graduate हैं। किसी भी Recognized University से ग्रेजुएट होने के बाद आप Bank PO के Exam को दे सकते हैं। वहीं इसके लिए आपकी उम्र 20 से 30 साल के बीच होनी चाहिए। OBC तथा SC/ST Candidate को Reservation के अनुसार उम्र में छूट भी दी गयी है।

OBC को अधिकतम उम्र में 3 साल की छूट तथा SC/ST के Candidate को इसमें 5 वर्ष की छूट दी गयी है। बैंक के PO पद के लिए आप जितनी बार चाहें उतनी बार परीक्षा दे सकते हैं। लेकिन SBI की PO परीक्षा देने के लिए GENERAL Candidate को सिर्फ़ 4 मौके दिए गए हैं।अन्य बैंकों में आप इसे अनगिनत बार दे सकते हैं जब तक कि आपकी उम्र सीमा पार ना हो।

अब आइये ये भी जान लेते हैं कि Bank PO के Exam का Pattern क्या होता है। जिससे आपको इसके लिए तयारी करने में आसानी हो।

Bank PO के Exam का Pattern

दोस्तों Bank PO Exam के कुल 3 Step होते हैं। जिसे की इस तरह से बाँटा गया है।

  1. Pre Exam- इस Exam में Candidate से MCQ प्रश्न पूछे जाते है। इसे प्रारंभिक परीक्षा भी कहते हैं। इस Exam में Candidate से GS, Reasoning आदि के प्रश्न पूछे जाते हैं।
  2. Mains Exam- Pre Exam को पास करने वाले Candidate को इसके Mains Exam के लिये बुलाया जाता हैं। यह एक Written Exam होता है जिसमें Candidate से Banking Sector से जुड़े लिखित प्रश्न पूछे जाते हैं।
  3. Group Discussion तथा Personal Interview – Bank PO की परीक्षा का सबसे आख़िरी Step होता है इसका Group Discussion राउंड। इसमें Candidate को 2-3 लोगो के साथ Group Discussion कर के Comptete करना होता है। इसी के साथ प्रत्येक Candidate का Personal Interview भी लिया जाता है।

ये सभी Step पास करने के बाद ही आप किसी Bank में PO का पद प्राप्त कर सकते हैं।

दोस्तों हमने ये तो जान लिया की Bank में PO बनने के लिए क्या Eligibility है तथा आप किस तरह से किसी Bank में PO का पद प्राप्त कर सकते हैं। अब आइये इसी क्रम में ये भी जान लेते हैं कि किसी Bank के PO का क्या कार्य होता है तथा उसे इसके लिए कितनी Sallery मिलती है

Bank PO का कार्य

एक Bank के PO का कार्य अपने Branch के सभी Clerkial Work पर नज़र रखना होता हैं। इसके साथ ही पूरे Branch को Manage करने की भी ज़िम्मेदारी PO को ही निभानी पड़ती है। इसके साथ Bank के फ़ायदे में अगर कुछ Important Decission लेना हो तो वो भी Bank के PO को ही लेने पड़ते हैं। साधरणतः Bank के PO का काम Bank के Manager से मिलता जुलता ही होता है। Bank के PO आगे Promote होकर Bank के Manager भी बनते हैं।

ये भी जाने

Bank PO की Sallery

SBI के PO की बेसिक सैलेरी 27,620 रुपये होती है। जिसमें की अन्य Inciment जोड़कर PO की सालाना Sallery 8.5 लाख रुपये से लेकर 12.5 लाख रुपये तक कि हो सकती हैं। अलग अलग बैंकों में तथा अलग अलग Branch के अनुसार PO की Sallery भी अलग-अलग होती है।

PO पोस्ट पर हमारी राय

दोस्तो किसी भी Bank में PO बनना इतना आसान नहीं होता है। ये एक बेहद Tough Exam होता है। अतः अगर आप Bank PO बनने का सपना देखते हैं तो आपको इसके लिए कड़ी मेहनत के साथ तैयारी करनी होगी तभी आप इस बेहद सम्मानित पद को पा सकेंगे।

इस पोस्ट में हम ने जाना PO क्या है, PO के काम और PO full form in Hindi के बारे में. हमे comment में बताये की आपको ये पोस्ट कैसी लगी. कोई सवाल हो तो ज़रूर पूछे.

सीखो सिखाओ, India को digital बनाओ

Leave a Reply

error: