PNG full form in Hindi – PNG फॉर्मेट क्या है?

PNG full form – Portable Network Graphics

अगर आप इमेज प्रोसेसिंग की दुनिया में हैं तो JPEG, PNG जैसे शब्दों से जरूर दो-चार हुए होंगे। यह शब्द फोटो या ग्राफिक्स से जुड़े हर शख्स के सामने आता ही आता है।

जैसे क्रिकेट में दिलचस्पी रखने वालों के आगे वन डे, टी-20 जैसे फार्मेट का जिक्र। ग्राफिक्स या इमेजेज को कंप्रेस करने और उनको इस्तेमाल करने में आसानी देने वाली कई तकनीक और फार्मेट हैं। PNG एक ऐसा ही फार्मेट है।

लेकिन क्या आप PNG full form से वाकिफ हैं? अगर आपका जवाब न में है तो हम आपको इससे जुड़ी जानकारी मुहैया कराएंगे-

PNG full form in Hindi

PNG की फुल फार्म है – Portable Network Graphics

PNG in Hindi – पोर्टेबल नेटवर्क ग्राफिक्स।

PNG क्या है?

इसे ‌इस तरह भी समझा जा सकता है कि यह ग्राफिक्सका एक ऐसा प्रारूप या फार्मेट है, जो किसी भी नेटवर्क, इंटरनेट पर इस्तेमाल करना अधिक आसान है। PNG फाइलों, तस्वीरों का एक्सटेंशन होता है .png।

ज्यादातर आइकन इसी फार्मेट में होते हैं। दरअसल, PNG इमेज मे अपना कोई बैकग्राउंड नहीं होता। ऐसे में जहां, पहले से ही कोई बैकग्राउंड होता है, वहां PNG इमेजेज क इस्तेमाल होता है। इसका फायदा यह है कि वह बैकग्राउंड छिपाने की जरूरत नहीं पड़ती। इनका आकार भी दूसरे इमेजेज से कम होता है।

ये भी जाने

JPEG format क्या है?

PNG की शुरुआत कैसे हुई?

आपको बता दें कि PNG फाइल फार्मेट को सन 1995 मे डेवलप किया गया। यह फार्मेट इंटरनेट पर सबसे ज्यादा इस्तेमाल किया जाने वाला फार्मेट है। जिस तरह इमेजेज मे Gif और Bmp का जिक्र होता है उसी तरह PNG का जिक्र होता है।

बता दें कि ग्राफिक्स भी इमेज का ही एक फार्मेट होती है। PNG इमेज फार्मेट अपने पिछले इमेज फार्मेट में सुधार करने के लिए ही डेवलप की गई थी। इस फार्मेट में ट्रांसपेरेंसी होती है। PNG फाइल Gif इमेज फाइल से कई गुना अधिक बेहतर होती है। यह jpeg फाइल से ज़्यादा बड़ी भी होती है। PNG में गामा स्टोरिंग होती है। यानी यह आपको अलग-अलग सॉफ्टवेयर मे अलग अलग तरीके से दिखलाई पड़ेगी।

PNG format के फायदे?

इन दिनों इमेजेज जिस फार्मेट में सेव और इस्तेमाल की जाती हैं उनमें PNG एक लोकप्रिय फार्मेट है। खास तौर पर पब्लिककेशन के फील्ड में इस फार्मेट का बड़ा इस्तेमाल होता है। फर्ज कीजिए कि आप एक सोशल ‌एक्टिविस्ट हैं।

आप कोई धरना, प्रदर्शन करते हैं। ऐसे में किसी अखबार में जब आप फोटो छपने भेजते हैं तो उसका फार्मेट PNG में होने से आसानी होती है। मसलन इसकी बैकग्राउंड न होने से उसे छिपाने की जरूरत नहीं होती। दूसरे आकार कम होने की वजह से इस फार्मेट में इमेज को मनचाहे तरीके से इस्तेमाल करने में आसानी होती है।

PNG पोस्ट पर हमारी राय

ज्यादातर प्रोफेशनल्स भी इन दिनों PNG यानी पोर्टेबल नेटवर्क ग्राफिक्स फार्मेट का ही यूज करते हुए मिल जाएंगे। न केवल पब्लिशिंग बल्कि कंप्यूटर, फोटोग्राफी, एनजीओ आदि फील्ड से जुड़े लोग भी इसी फार्मेट के अधिक इस्तेमाल में दिलचस्पी दिखा रहे हैं। फिलवक्त, आगे भी इसका चलन यूं ही बने रहने की उम्मीद है।

इस पोस्ट में हम ने जाना की PNG क्या है, PNG format की शुरुआत, PNG format के फायदे और PNG full Form in Hindi के बारे में।

सीखो सिखाओ, India को digital बनाओ

Leave a Reply

error: