PHD Full Form: पीएचडी का फुल फॉर्म क्या है?

PhD दुनिया के लगभग सभी देशों में Education के field में सबसे बड़ी डिग्री के रूप में जाना जाता है। Education के किसी भी Field में PhD की डिग्री सबसे बड़ी उपाधि मानी जाती है। अगर आप किसी भी विषय मे PhD की डिग्री ले लेते है तो आपको उस विषय मे ‘डॉक्टर’ की degree मिल जाती है और आपके नाम के आगे ‘डॉक्टर’ लग जाता है। PhD के बारे में ये सभी बाते तो लगभग हर कोई जानता है लेकिन PhD से जुड़ी कुछ ऐसी भी बाते है जिन्हें की बहुत कम लोग ही जानते है जैसे कि PHD full form।

दोस्तो, इसलिए आज हम आपको PhD से जुड़ी सारी जानकारी देने वाले हैं। इस क्रम में आइये सबसें पहले जान लेते है कि की Pdf की full form क्या है

PHD Full Form in Hindi

Details of PHD and PHD full form in Hindi

PHD full form in Hindi

Ph.D. का फुलफॉर्म- Doctor of Philosophy

 Ph.D. की फुल फॉर्म हिंदी मेंडॉक्टर ऑफ फिलॉसफी

पीएचडी को कई बार PHD, P.HD या फिर D.phill (डी. फिल) के नाम से भी जाना जाता है। ये सभी PhD के अलग-अलग नाम है लेकिन इन सभी का एक ही फुलफॉर्म होता है।

PHD के लिए subject?

दोस्तो, PhD किसी भी Field से तथा किसी भी Subject से की जा सकती है। आप चाहे Science की Field के Student हो या फिर Art Stream के Student आप किसी भी Subject से PhD कर सकते हैं। इसके लिए आपके पास बस उस Subject में Master की डिग्री होनीं चाहिए।

PHD कैसे करे?

अगर आप भी PhD की पढ़ाई करना चाहते है तो इसके लिए सबसे पहले आपको किसी Subject का चुनाव करना होगा। उस Subject से आपको सबसे पहले Graduation तथा Post Graduation Complete करना होगा। इसके बाद आप PhD में प्रवेश हेतु होने वाले Net तथा GATE आदि Exam को पास कर के किसी अच्छे college में प्रवेश ले सकते हैं।

ये भी जाने – RIP का क्या मतलब होता है?

इसके अलावा, कई college ऐसे भी है जहाँ पर आप सीधे ही PhD कोर्स में Admission ले सकते हैं।

पीएचडी कोर्स की duration

PhD का कोर्स 3 से 5 साल की duration का होता हैं। लेकिन आप अगर अपने चुने हुए Subject में शोध आदि कार्य करना चाहते है तो इस स्थिति में इसकी duration अनिश्चित होती है।

ये भी जाने – MBA की फुल फॉर्म क्या है?

आप 5 साल से अधिक समय में भी ये कोर्स पूरा कर सकते हैं। दरअसल PhD के अन्तर्गत Student को संबंधित विषय मे research का भी मौका दिया जाता है। ऐसे में research के पूरा होने तक Student को PhD की पढ़ाई ज़ारी रखनी होती है।

PHD करने का फ़ायदा?

PhD की पढ़ाई पूरी करने के बाद आप किसी University या College में प्रोफेसर बन सकते हैं। इसके साथ ही आप उस subject मे research भी कर सकते हैं।

आप अगर चाहे तो एक से अधिक subject मे भी PhD कर सकते है।इसके लिए बस आपको उन सभी विषयों में पहले Master की डिग्री पूरी करनी होगी।

ये भी जाने – MBBS का फुल फॉर्म क्या है?

PhD भारत सहित दुनिया के सभी देशों में शिक्षा के क्षेत्र में सबसे higher डिग्री मानी जाती है। इस डिग्री को लेने के लिए किसी भी Student को कड़ी मेहनत के साथ ही काफी सब्र भी रखना होता है।इसके बाद ही वो अपने नाम के आगे ‘डॉक्टर’ लगाने के काबिल होता है।

इस पोस्ट पर हमारी राय

आशा करते है कि हमारे द्वारा यहाँ पर दी गयी PhD full form से जुड़ी सारी जानकारी आपको पसंद आयी होगी। अगर आपके पास इससे जुड़े कुछ सुझाव और सवाल हों तो हमारे साथ Comment के द्वारा जरूर Share करें। इसके साथ ही इस जानकारी को अपने जानने वाले लोगो के साथ Share करना ना भूलें।

सीखो सिखाओ, India को digital बनाओ

2 Comments

  1. Ankush Nain October 8, 2018
    • Umair habib October 11, 2018

Leave a Reply

error: