PGDCA full form in Hindi – PGDCA कोर्स क्या है और future scope क्या है?

Computer की खोज़ ने हमारी दुनिया के पूरे System को ही बदल कर रख दिया है। Computer की खोज़ का प्रभाव ना सिर्फ़ हमारे रोज़मर्रा के कामों पर पड़ा है, बल्कि इसके खोज़ ने शिक्षा, व्यवसाय तथा अन्य सार्वजनिक क्षेत्रों पर भी काफ़ी व्यापक प्रभाव डाला है।i

Computer के आविष्कार के बाद जैसे-जैसे ये आम  लोगो की पहुँच में आया है इसे जुड़े अध्ययन और Research में भी काफ़ी तरक्क़ी देखने को मिली है।

Computer की Field से जुड़े Courses में से PGDCA का भी इन दिनों काफ़ी क्रेज़ देखने को मिलता है। आप सभी ने भी PGDCA कोर्स के बारे में जरूर सुना होगा तथा इसके बारे में ये भी जानते होंगे कि ये एक Computer की फ़ील्ड से जुड़ा कोर्स है। लेकिन अगर बात करें PGDCA full form in Hindi की तो हममें से बहुत कम लोगो को ही PGDCA की फुलफॉर्म पता होगी। इस क्रम में आज हम आपको ना सिर्फ़ PGDCA की फुलफॉर्म बताने वाले हैं बल्कि इस कोर्स से जुड़ी अन्य महत्वपूर्ण जानकारी भी आपको देने वाले हैं।

इस क्रम में आइये सबसे पहले जान लेते हैं कि PGDCA का फुलफॉर्म क्या होता है?

PGDCA full form in Hindi

PGDCA का फुलफॉर्म – Post Graduate Diploma in Computer Application

PGDCA course in Hindi – पोस्ट ग्रेजुएट डिप्लोमा इन कम्प्यूटर एप्लिकेशन

PGDCA का कोर्स कम्प्यूटर के Field में एक डिप्लोमा कोर्स है। इस कोर्स की अवधि 1 वर्ष की होती है। इस 1 वर्ष के कोर्स में 2 सेमेस्टर होते हैं। PGDCA कोर्स के 2 सेमेस्टर में Students को Computer से जुड़ी सभी Basic Information दी जाती है। इस कोर्स के पहले सेमेस्टर में Students को Computer Language जैसे कि C, C++, Java आदि की जानकारी दी जाती है। इसके बाद कोर्स के दूसरे Semester में Students को प्रोजेक्ट का काम दिया जाता है। इसके साथ ही PGDCA के Students को M.S. Office, Tally, Web Design आदि की भी Knowledge दी जाती है।

ये भी जाने –

PGDCA कोर्स के लिए eligibility

PGDCA एक पोस्ट ग्रेजुएट डिप्लोमा कोर्स है। अतः इस Course में Admission लेने के लिए आपका Graduate होना आवश्यक है। साधरणतः किसी भी Institute में PGDCA कोर्स में Admission लेनें के लिए ग्रेजुएशन के Percentage को ध्यान में नहीं रखा जाता। लेकिन कुछ ऐसे भी Institute हैं जहाँ पर अगर आप PGDCA में Admission लेते है तो उसके लिए आपके Graduation के Percentage को भी देखा जाता हैं।

PGDCA कोर्स की फीस

अगर बात की जाए PGDCA के कोर्स के फ़ीस की तो साधरणतः सभी Institute में इसकी फ़ीस 12-15 हज़ार रुपये प्रति सेमेस्टर निर्धारित की गई है। वहीं बहुत से Institute में PGDCA की फीस इससे भी ज्यादा है।

PGDCA करनें के फ़ायदें –

PGDCA का कोर्स करने के बाद आप Private और सरकारी दोनो ही तरह की Job कर सकते हैं। Private Sector में आप सॉफ्टवेयर इंजीनियर, डेटा एनालिस्ट, Java Developer आदि की नौकरीं कर सकते हैं।

वहीं दूसरी तरफ़ अब बहुत से सरकारी नौकरियों के भी PGDCA कोर्स की माँग की जाती है। ऐसे में PGDCA कोर्स करने के बाद आप सरकारी और प्राइवेट दोनो ही तरह की Jobs कर सकते हैं।

PGDCA कौसे किस के लिए सही है?

दोस्तों PGDCA उन Students के लिए एक बेहतरीन कोर्स है जिनका Intrest Computer की फील्ड म होता है। Computer से संबंधित अन्य Courses की तुलना में PGDCA के कोर्स की समय अवधि कम होने के साथ ही इस Field की फीस भी कक होती है। ऐसे में अगर आप अपना Graduation पूरा कर चुके हूं और आप अपना करियर Computer के फील्ड में बनाना चाहते हैं तो आप PGDCA कर के अपने इस सपने को आसानी से पूरा कर सकते हैं।

ये भी जाने –

PGDCA पोस्ट पर हमारी राय

दोस्तो आज हमने आपको PGDCA कोर्स से संबंधित जानकारी यहाँ पर दी। आशा करते हैं कि आपको हमारे द्वारा यहाँ पर दी गयी जानकारी PGDCA कोर्स क्या है, इसके फायदे और PGDCA full form in Hindi पसंद आयी होगी। जॉगर आपके पास हमारे लिए कोई महत्वपूर्ण सुझाव या सलाह हो तो हमें Comment कर के जरूर बताएं।

सीखो सिखाओ, India को digital बनाओ

Leave a Reply

error: