NET full form – NET एग्जाम क्या है, कैसे करे तयारी?

आप मे से लगभग सभी लोगो ने UGC NET Exam के बारे जरूर ही सुना होगा। लेकिन इसके बारे पूरी जानकारी बहुत कम लोगो के ही पास होगी। अक्सर लोगो के मन मे NET को ले कर सवाल उठते हैं की आखिर NET Exam क्या होता है? ये Exam क्यों दिया जाता है, NET full form तथा NET Exam को देने के क्या फायदे होते हैं।

दोस्तो इसीलिए आज हम इस Article के माध्यम से आपको इन सभी सवालों का जवाब देने वाले हैं।

इस क्रम में आइये सबसे पहले जान लेते हैं कि NET Exam क्या है?

NET full form In Hindi

 आज हम जानेगे NET full form हिंदी में.

NET full form

NET exam की Full form क्या है – National Eligibility Test

यानी कि ‘राष्ट्रीय योग्यता परीक्षा’। पहले ये Exam हर साल UGC (University Grants Commission) द्वारा कराया जाता है। लेकिन साल 2015 के बाद से NET का Exam हर साल CBSE (Central Board Of Secondary Education) यानी कि ‘केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा परिषद’ द्वारा कराया जाता है।

ये Exam उन Candidates के लिए कराया जाता है जो कि किसी University में Lecturer बनना चाहते है या फ़िर Research Scholer के तौर पर अपनी पढ़ाई आगे ज़ारी रखना चाहते हैं।

ये भी जाने – ITI क्या है और कैसे करे?

NET Exam उन Candidate के Through ही JRF के लिए भी Candidate की Eligibility का निर्धारण किया जाता है। JRF का फुलफॉर्म ‘Junior Research Fellowship’ होता है। इस Exam को पास करने के बाद ही आपको India की किसी Government University या Graduate College में Assistant Proffessor बनने का मौका मिलता है।

जो भी Candidate NET Exam को पास करने में सफ़ल होते है उन्हें Lecturership या JRF द्वारा सम्मानित किया जाता है। यदि Candidate का का Performance इस Exam में काफ़ी अच्छा रहता है तो उसे इन दोनो ही Award से सम्मानित किया जाता है। NET Exam में Candidate को कुल 3 Paper देने होते है और इन तीन पेपरों के आधार पर ही सफ़ल Candidate की घोषणा की जाती है। NET Exam के इन तीनों ही Paper में Performance के आधार पर ही Candidate को Lecturership या JRF के लिए चुना जाता है।

दोस्तो इसी क्रम में आइये अब जान लेते है कि NET Exam के लिए Candidate की Eligibility क्या -क्या होनी चाहिए।

NET exam की eligibility

  1. CBSE द्वारा संचालित NET Exam में बैठने के लिए Candidate के Master यानी कि पोस्टमार्टम Graduation की डिग्री होनी चाहिए। किसी भी Subject में Master की डिग्री रखने वाले Candidate NET का Exam दे सकते हैं।
  2. NET के Exam में बैठने के लिए Candidate का Post Graduation में Minimum 55 प्रतिशत Marks होना चाहिए। इसके साथ ही उसका Post Graduation केंद्र सरकार द्वारा Recognized University द्वारा होना चाहिए।
  3. NET Exam के लिए Candiddate की Age 28 साल से कम होनी चाहिए।

CBSE द्वारा लगभग 80 Subjects में NET का Exam कराया जाता है। इसके साथ ही भारत के 90 शहरों मे इसके Exam के Center रखे जाते हैं। आप NET का Exam देते समय अपने पसंद के अनुसार इन 90 शहरों में से कोई एक शहर Examination Center के रूप में चुन सकते हैं।

ये भी जाने –  GPS क्या है कैसे काम करता है?

दोस्तो NET Exam के बारें में हमने ये तो जान लिया कि ये क्या होता है तथा इसकी Eligibility क्या है, अब आइये आगे ये भी जान लेते है कि NET Exam को पास कर के आप किस तरह से अपना करियर बना सकते हैं। यानी की NET Exam पास करने के बाद आपके पास क्या-क्या Opportunity हो सकती है।

NET Clear कर क्या क्या कर सकते है?

किसी Private University या College में Lecturer बन सकते है-

NET Exam पास करने के बाद आपके पास मौका होता है किसी भी Private University या College में Lecturer बनने का। NET के Exam को पास करनें के बाद आप आसानी से किसी भी Private University या College मे Lecturer बननें के लिए Apply कर सकते हैं।

Government University या College में भी कर सकते हैं Apply-

Private University की ही तरह आप Government University या College में भी Lecturer बनने के लिए Apply कर सकते हैं।हालांकि वहाँ पर Apply करने के लिए आपके पास उस University के Eligibility के दायरे में भी आना चाहिए, तभी आप वहाँ पर Lecturer बननें के लिए Apply कर सकते हैं।

दोस्तों, बहुत से लोगो को ये ग़लतफ़हमी होती है कि वो NET Exam पास करने के बाद सीधे ही किसी Government College में Lecturer या Proffesor बन सकते हैं। लेकिन यहाँ हम आपको बता दे कि ऐसा बिल्कुल भी नहीं होता है। NET Exan पास करने के बाद भी आपको कुछ Step Fallow करने पड़ते हैं तभी आप किसी Government University या College में Lecturer बननें में सफल हो पाते हैं।

Research Fellowship भी बन सकते है-

अगर NET Exam पास करने के बाद आप आगे किसी विषय मे Research करना चाहते है तो भी यहाँ पर आपके पास बेहतरीन Opportunity होती है। लेकिन आप Research के लिए तभी Apply कर सकते है जब आपने JRF भी पास किया हो।

ये भी जाने – EWS क्या है?

इसके अलावा आपको भारत के किसी सम्मानित संस्थान जैसे कि IIT आदि में अपना एक Post भी सुनिश्चित करना होता है।

PhD भी कर सकते है-

अगर आप NET Exam पास करने के बाद PhD करना चाहते है तो इसके लिए भी आपको अच्छी Scholership सरकार द्वारा दी जाती है। NET और JRF पास करने के बाद आपको PhD करने के लिए कोई भी अन्य Entrance Exam नहीं देना होता है। बल्कि आपको NET के Marks के अनुसार ही भारत के किसी संस्थान में Scholership के साथ PhD करने का मौका मिल जाता है।

इस पोस्ट पर हमारी राय

जो Student अपना Graduation Complete कर चुके है या फिर अभी Graduation कर रहे हैं और वो Future में खुद को एक Lecturer के रूप में या Researcher के रूप में देखना चाहते है, उनके लिए NET Exam एक बेहतरीन मौका है। हालांकि NET Exam का Level काफ़ी High होता है अतः इसके लिए Candidate को काफ़ी Preperation करनी पड़ती है, तभी वो इस Exam में सफ़ल हो सकता है। अगर आप भी NET Exam देना चाहते है तो आपको इसे अच्छी तैयारी के साथ ही देना चाहिए।

हम ने अपनी तरफ से NET full form में काफी कुछ बताने की कोशिश की है. अगर आपका कोई सवाल अब भी बाकी है तो comment में ज़रूर पूछे.

सीखो सिखाओ, India को digital बनाओ

One Response

  1. Vikash December 19, 2018

Leave a Reply

error: