NCR full form in Hindi – एनसीआर का एरिया, हिस्ट्री और financial की जानकारी

देश की राजधानी नई दिल्ली का 2.9 फीसदी हिस्सा एनसीआर से बनता है। नेशनल कैपिटल रीजन प्लानिंग बोर्ड (एनसीआरपीबी) एक्ट, 1985 के तहत तीन पड़ोसी राज्यों – हरियाणा, उत्तर प्रदेश और राजस्थान के कुछ जिलों और भारत की राजधानी दिल्ली को मिलाकर एनसीआर का निर्माण किया गया।

एनसीआर देश का सबसे बड़ा कैपिटल रीजन है। आंकड़े बताते हैं कि एनसीआर में चार करोड़ से अधिक की आबादी रहती है। एनसीआर में दिल्ली से बिल्कुल सटे उत्तर प्रदेश, हरियाणा और राजस्थान के कई शहर शामिल है। तो जानते है NCR full form in Hindi और एनसीआर की बाकी जानकारी.

NCR full form in Hindi – (एनसीआर)

NCR की full form – National capital region

NCR in Hindi – नेशनल कैपिटल रीजन यानी कि राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र है।

एनसीआर में दिल्ली से सटे सूबे उत्तर प्रदेश, हरियाणा और राजस्थान के कई शहर शामिल हैं।

NCR का एरिया कितना है?

गणना करें तो समूचे एनसीआर में दिल्ली का क्षेत्रफल 1,484 स्क्वायर किलोमीटर है। .एनसीआर के तहत आने वाले क्षेत्र में उत्तर प्रदेश के मेरठ, गाजियाबाद, गौतम बुद्ध नगर (नोएडा), बुलंदशहर, बागपत, हापुड़ और मुजफ्फरनगर जैसे जिले शामिल हैं।

वहीं हरियाणा के फरीदाबाद, गुड़गांव, मेवात, रोहतक, सोनीपत, रेवाड़ी, झज्जर, पानीपत, पलवल, महेंद्रगढ़, भिवाड़ी, जींद और करनाल जैसे जिलों को एनसीआ में शामिल किया गया है।.राजस्थान से दो जिले – भरतपुर और अलवर एनसीआर में आते हैं।

ये भी जाने –

NCR में कितने ज़िले है?

आज से करीब पांच साल पहले एनसीआर में तीन जिले शामिल किए गए। जुलाई, 2013 में हरियाणा राज्य के भिवाड़ी और महेंद्रगढ़, राजस्थान राज्य के भरतपुर जैसे जिले शामिल कर एनसीआर क्षेत्र में इजाफा किया गया। इस तरह अब एनसीआर में शामिल जिले 19 हैं। उत्तर प्रदेश अब मांग कर रहा है कि अलीगढ़, मथुरा और आगरा जैसे जिलों को भी एनसीआर में शामिल किया जाए।

NCR की  व्यापारिक और सांस्कृतिक

एनसीआर क्षेत्र में शामिल होकर दूसरे राज्यों के जिलों ने दिल्ली के साथ जुड़कर दिल्ली की व्यापारिक और सांस्कृतिक पहचान भी बदल दी है। दिल्ली में अब हरियाणावी, राजस्‍थानी संस्कृति के साथ ही पश्चिचमी उत्तर प्रदेश की संस्कृति के भी दर्शन होते हैं।

गालिब की दिल्ली में बाहुबली सोच हावी हुई है। पहले कहा जाता था-दिल्ली दिल वालों की, मुंबई पैसे वालों की। लेकिन अब सोच इसके ठीक उलट हो गई है। अब दिल्ली भी केवल पैसे वालों की ही मानी जाती है।

यह अलग बात है कि एनसीआर के शामिल होने से दिल्ली के साथ ही यह एरिया भी देश भर से यहां आने वालों के लिए रोजगार हासिल करने का एक बड़ा प्लेटफार्म बना हुआ है। तकनीकी क्षेत्र से लेकर तमाम सभी क्षेत्रों में यहां रोजगार लेने आने वालों की बड़ी फौज रहती है।

ये भी जाने – 

NCR का literarcy rate कितना है?

दिल्ली के साथ ही एनसीआर शिक्षा के क्षेत्र में बड़ी पहचान के रूप में उभरा है। यहां इंजीनियरिंग और मेडिकल संस्‍थानों की भरमार हो गई है। उत्तर प्रदेश के तमाम शहरों से छात्र यहां व्यावसायिक डिग्री, डिप्लोमा लेने, उच्च शिक्षा हासिल करने के लिए रुख कर रहे हैं।

एनसीआर पोस्ट पर हमारी राय

इस पोस्ट में हम ने जाना की क्या है NCR, कितना एरिया है एनसीआर में और NCR full form In Hindi. हमे comment में बताये की आपको ये पोस्ट कैसी लगी. कोई सवाल हो तो ज़रूर पूछे.

सीखो सिखाओ, India को digital बनाओ

 

Leave a Reply

error: