MC full form in Hindi – MC की duration, आने का समय और इसके फायदे जाने

दोस्तो आज के इस Article में हम आपको ना सिर्फ़ MC full form in Hindi में बताने वाले हैं बल्कि इससे जुड़ी अन्य महत्वपूर्ण बातें भी आपको बताने वाले हैं।

इस क्रम में आइये सबसे पहले जानते हैं कि MC का फुलफॉर्म क्या होता है?

MC Full form in Hindi

MC का फुलफॉर्म – Menstrual Cycle

MC in Hindi – मेंस्ट्रुअल साईकल

MC महिलाओं में होने वाले मासिक धर्म का अंग्रेजी नाम है।

अलग-अलग जगहों पर इसे अलग- अलग नामों से जाना जाता है। साधरणतः इसे मासिक धर्म, पीरियड्स, या फिर MC के नाम से भी जाना जाता है।

मासिक धर्म या मेंस्ट्रुअल साईकल की जानकारी

MC हर महिला के जीवन मे लगभग 14 वर्ष की उम्र से आना शुरू होकर 45 वर्ष की अवस्था तक आता है। प्रत्येक महिला को हर महीने आने वाली इस MC का चक्र भी अलग- अलग होता है। यानी कि हर महिला को ये अलग-अलग समय पर आना शुरू होता है। MC के चक्र के समय महिलाओं की योनि से एक गन्दे और बदबूदार तरल का स्त्राव होता है। प्रत्येक महीने होने वाले इस चक्र की जब शुरुआत होती हैं तो ये लगभग 4-5 दिनों तक चलता है।

ये भी जाने –

मासिक धर्म की शुरुआत

महिलाओ में MC आने की शुरुआत तब होती है जब वो गर्भ धारण करने के योग्य हो जाती है। वही इसके आने का क्रम लगभग 45 वर्ष तक कि अवस्था तक ज़ारी रहता है।

मासिक धर्म में परेशानियाँ

मासिक धर्म यानी पीरियड्स सभी महिलाओं में हर महीने होने वाली एक सामान्य प्रक्रिया है। इस दौरान महिलाओं को अनिद्रा ,कमर में दर्द, आदि कई समस्याओं से निपटना पड़ता है।

ऐसे में कुछ महिलाएं इस दर्द से बचने के लिए दवा लेने लग जाती है जो कि बहुत ही गलत है।अमेरिका की नेशनल लाइब्रेरी ऑफ मेडिसिन की मानें, तो इस दौरान ली जाने वाली दवाएं इतनी खतरनाक होती हैं कि इनके कारण दिल का दौरा भी पड़ सकता है। इसके अलावा इन दवाओं से अल्सर, किडनी और लीवर की समस्याएं, आंतों की समस्याएं, आदि हो सकती हैं।

अतः इस समय दवा के बजाय प्राकृतिक उपचार पर ज्यादा जोर देना चाहिए।

मेंस्ट्रुअल साईकल के बारे में गलत सोच

MC को लेकर बनी है गलत धारणा-अक्सर लोगो का ये मानना होता है कि पीरियड्स के समय महिलाएं गर्भवती नही हो सकती है। लेकिन ये बात बिल्कुल गलत है। अगर पीरियड्स के समय भी सही तरीके से इंटरकोर्स किया जाए तो महिलाएं निश्चित रूप से गर्भवती हो सकती है।

ये भी जाने –

पीरियड्स आने के फायदे

पीरियड्स या MC का आना महिलाओं के जीवन का एक महत्वपूर्ण हिस्सा है। ऐसे में इस समय महिलाओं को विशेष सावधानी बरतनी चाहिए। MC के समय सही पैड का इस्तेमाल ही आपकी सुरक्षा को सुनिश्चित कर सकता है। कई बार महिलाएँ MC के वक्त ख़राब और गंदे कपड़े का इस्तेमाल करने के साथ ही कई तरह की असावधानी इस समय करती हैं। जिसके कारण उन्हें गंभीर बीमारियों का भी सामना करना पड़ सकता हैं।

MC या पीरियड्स पोस्ट पर हमारी राय

दोस्तो आज के इस Article में हमने आपको MC ल फुलफॉर्म बताने के साथ ही उससे जुड़ी कुछ महत्वपूर्ण जानकारियाँ भी आपको दी है। आशा करते हैं कि आपको हमारे द्वारा यहाँ पर दी गयी जानकारी काफ़ी पसंद आयी होगी। आपके पास अगर इस Article से जुड़े कुछ महत्वपूर्ण सुझाव और सलाह हो तो हमें Comment कर के जरूर बताएं।

सीखो सिखाओ, India को digital बनाओ

One Response

  1. Thakur Aman Singh November 21, 2018

Leave a Reply

error: