LLB Full Form in Hindi – LLB कैसे करे?

दोस्तो आप सभी ने LL.B. के बारे में जरूर ही सुना होगा। इसके साथ ही आओ ये भी जानते होंगे कि LL.B. की डिग्री लेने के बाद कोई भी व्यक्ति Lawyer या वक़ील बनता है। लेकिन क्या आप का फुलफॉर्म जानते हैं? और क्या आप ये जानते है कि LL.B. की शुरुआत कब हुई? LL.B. की डिग्री कैसे हासिल की जाती है और इसके साथ ही LL.B. करने के बाद आप वक़ील के अलावा और क्या बन सकते है?

अगर आपके पास इन सभी सवालों का कोई जवाब नहीं है तो आप बिल्कुल परेशान ना हो क्योंकि आज हम ना सिर्फ़ आपको LL.B. का फुलफॉर्म बताने वाले है बल्कि इससे जुड़ी अन्य रोचक जानकारी भी देने वाले हैं।

इस क्रम में आइये सबसे पहले जान लेते है कि LL.B. का फुलफॉर्म क्या होता है?

LLB Full Form in Hindi

LL.B. का फुलफॉर्म – Bechlors of Law

LLB meaning in Hindi – बैचलर्स ऑफ लॉ

LL.B. एक Undergraduate डिग्री है, जिसे पूरी करने के बाद कोई भी व्यक्ति अपना करियर एक Lawyer के तौर पर शुरू कर सकता है। LL.B. की डिग्री लेने के बाद आप भारत के किसी भी High Court, Civil Court या फिर Supreme Court में भी एक Lawyer के रूप में अपनी Practice शुरू कर सकते हैं।

LLB के फुलफॉर्म के बारे में तो हमने जान लिया अब आइये जानते है कि LL.B. की History क्या है यानी कि LL.B. की शुरुआत कब हुई।

LL.B. की History-

LL.B. का इतिहास काफी पुराना है। जब से इस दुनिया मे Judiciary यानी कि न्याय व्यवस्था की शुरुआत हुई है तभी से LL.B. की भी शुरुआत की गई है। इसकी शुरुआत आज से लगभग 650 साल पहले सन 1292 में हुई थी। लेकिन उस समय ये डिग्री आज के प्रारूप के अनुसार नही थी। तब सिर्फ Students को Court में बैठकर बहस को सुना करते थे और उसी के अनुसार खुद को भी Traind करते थे।

ये भी जाने – EMI फुल फॉर्म हिंदी में

दुनिया मे LLB की शुरुआत सबसे पहले England में हुई थी। सही रूप से LL.B. की शुरुआत सन 1753 में हुई। सन 1753 में लंदन के Oxford University के प्रोफ़ेसर विलियम ब्लैकस्टोन ने LL.B. को एक डिग्री बनाने का काम किया। वो दुनिया के पहले ऐसे व्यक्ति थे जिन्होंने LL.B. को एक डिग्री बनाने का और इसे एक Course के रूप में University में शामिल करने का सुझाव दिया।

इसके बाद धीरे- धीरे दुनिया के सभी University में LL.B. की पढ़ाई की शुरुआत हुई। लेकिन इस समय इस Course में Admisson लेने के लिए कोई Entrance Test या फिर कोई Minimum Educational Eligibility नहीं रखी गयी थी। बाद में सन 1846 में LL.B. Course में Addmison लेने के लिए Entrance Exam लेने के साथ ही Eligibility भी निर्धारित की गई।

आज के समय मे पूरी दुनिया मे LL.B. एक सम्मानित Course के रूप में जाना जाता है। भारत सहित दुनिया के लगभग सभी देशों की Court में काम करने वाले सभी Lawyers और Judges के पास LL.B. की डिग्री जरूर होती है।

दोस्तो अब LL.B. के बारे में इतना सब जानने के बाद आपके मन मे भी ये सवाल उठ रहा होगा कि आख़िर LL.B. में Admisson कैसे ले? तो आओ बिल्कुल भी परेशान ना हो क्योंकि अब हम आपKओ यहाँ पर ये बताने जा रहे है कि आप India की University और College में LL.B. में कैसे Admisson ले सकते हैं।

LL.B. में Admisson-

दोस्तो हमारे देश मे LL.B. की डिग्री दो तरह से हासिल की जा सकती है। इसे Graduation के पहले तथा Graduation Complete होने के बाद वाले LL.B. में Devide कर के समझा जा सकता है। इन दोनों ही तरीको में Course के Duration का अंतर होता है। जिसे की 3 Year लॉ तथा 5 Year लॉ कोर्स में बाँटा गया है।

ये भी जाने – CEO का क्या मतलब है?

यहाँ पर हम आपको LL.B करने के दोनों ही तरीको को बताने वाले हैं।

Graduation के पहले या 5 Year लॉ में कैसे ले Admisson-

अगर आप Graduation पूरा होने के पहले ही LL.B.में Admisson लेना चाहते है तो आपको ये Course 5 साल में पूरा करना पड़ेगा। इसे 5 Year लॉ कोर्स भी कहते है। इसके साथ ही इसे B.A.LL.B. भी कहते हैं। भारत की कई Government तथा Private Universities द्वारा BALLB में Admisson के लिए Entrance Test करवाया जाता है। इस Entrace Exam को CLAT (क्लैट) यानी कि Combined Law Admisson Test के नाम से भी जाना जाता है।

इस CLAT Exam के लिए आपका 12th पास होना आवश्यक है। इस Exam के लिए कोई Age Limit नहीं निर्धारित की गई है।

Graduation के बाद या 3 Year Law में कैसे ले Admisson-

अगर आप Graduation Complete कर चुके है और अब LL.B. करना चाहते है तो अब आप 3 Year Law Course में Admisson ले सकते हैं। अगर आप किसी Governmnet University से अपने Law की डिग्री पूरी करना चाहते है तो आपको इसके लिए Entrance Exam देना पड़ेगा। इसके साथ ही आप किसी Private University या College में Direct ही Admisson ले कर भी अपनी LL.B. की डिग्री हासिल कर सकते हैं।

ये भी जाने – ODF क्या है?

अब आइये जानते है की LL. B. करने के बाद आप किस तरह से अपना करियर बना सकते है?

LLB में carrer

Lawyer के रूप में-

LL.B करने के बाद आप किसी भी Court में अपना करियर एक वकील के रूप में शुरू कर सकते हैं। लेकिन इसके लिए आपको बार एशोसिएशन का Exam पास करना होता है।

Government Lawyer के रूप में-

Central Government तथा प्रत्येक State Government विवाद की स्थिति में आपने पक्ष को कोर्ट में रखने के लिए Lawyer रखती है। सभी सरकारी विभागों के अलग- अलग वकील होते है जो कि उस विभाग से संबंधित किसी विवाद में सरकार की तरफ़ से कोर्ट में बहस करते हैं।

ऐसे में आप LL.B करने के बाद एक सरकारी वक़ील बनकर भी अपना करियर बना सकते है। हालांकि सरकारी वक़ील बनने के लिए आपके पास कम से कम 5 साल का अनुभव होना चाहिए।

Legal Advisor के रूप में-

हर संस्था तथा Company कानूनी चक्कर मे पड़ने से बचने के लिए एक वक़ील को Legal Advisor के रूप में रखती है।Legal Advisor का काम संस्था या Company को कानून के दायरे में काम करने के साथ ही उन्हें कानूनी नियमों से भी वाकिफ़ करना होता है, जिससे कि वो किसी तरह के विवाद में ना पड़े।

ये भी जाने – SDO क्या है और कैसे बने?

Judge भी बन सकते है-

High Court तथा Supreme Court के सभी जजों के चुनाव राष्ट्रपति द्वारा किया जाता है। इन जजों के चुनाव वकीलों में से ही किसी का किया जाता है। जो Lawyer अपनी 15 साल से ज्यादा की Practice पूरी कर चुके होते है उनमें से ही Judge के लिए कुछ Candidate को चुन कर बार Cauncil उनका नाम राष्ट्रपति के पास भेजता है। जिसके बाद राष्ट्रपति ही इन जजों के चुनाव करता है। ऐसे में आप LL.B. करने के बाद एक जज बनने की राह में भी कदम आगे बढ़ा सकते हैं।

इस पोस्ट में हमारी राय

LL.B. उन Students के लिए एक बहुत अच्छा विकल्प है जो कि न्यायिक Field में अपना करियर बनाना चाहते हैं। इस Field में नाम,पैसा, शोहरत तथा इज़्ज़त आदि वो सब कुछ है जिसकी कल्पना प्रत्येक व्यक्ति अपने जीवन में करता है। एक Private वक़ील की कोई Salery नहीं होती है, लेकिन वो अपने काम,व्यवहार तथा हुनर के दम पर काफ़ी पैसे और इज़्ज़त कमा सकता है।

हमे comment में बताये की आपको हमारी पोस्ट LLB full form in Hindi कैसी लगी?

सीखो सिखाओ, India को digital बनाओ

Leave a Reply

error: