JPEG full form in Hindi – JPEG क्या है?

JPEG full form – Joint Photographic Expert Group

आप कई बार अपने मोबाइल से फोटो खींचकर जब इंटरनेट के जरिये उसे किसी अन्य को भेजने लगते हैं तो आपने देखा होगा कि यह आसानी से जाती नहीं। वजह है साइज का बड़ा होना। JPEG फाइल फार्मेट ऐसे में काम आता है। अगर आपकी इमेज JPEG फार्मेट में हैं तो उसके वास्तविक आकार को कंप्रेस करके फाइल को भेजा जा सकता है और प्रयोग किया जा सकता है।

ज्यादातर फोटोग्राफ इन दिनों इसी फार्मेट में भेजे और इस्तेमाल किए जाते हैं। अलबत्ता कुछ लोग पीएनजी का भी इस्तेमाल करते हैं। इसके बावजूद JPEG का यूज ‌अधिक है। आज हम आपको JPEG full form के साथ ही इससे जुड़ी कई जानकारियां देंगे.

JPEG full form in Hindi

JPEG की फुल फार्म है – Joint Photographic Expert Group

JPEG in Hindi

यानी ज्वाइंट फोटोग्राफिक एक्सपर्ट ग्रुप। यह ग्राफिक या डिजिटल इमेज को कंप्रेस करने का एक मानक तरीका है। JPEG फाइल फार्मेट को इंटरनेशनल स्टैंडर्ड आर्गेनाइजेशन यानी आईएसओ 10918 में स्पेसिफाई किया गया है।

ये भी जान

JPEG के फायदे

इसके जरिये वास्तविक आकार को कुछ फीसदी तक कम किया जा सकता है। जैसा कि नाम से ही साफ है कि यह फोटोग्राफी विशेषज्ञों से जुड़ी प्रणाली है। इसे संयुक्त फोटोग्राफिक विशेषज्ञ समूह हिंदी में पुकारा जाता है।

JPEG के format

इंटरनेशनल स्टैंडर्ड आर्गेनाइजेशन और इंटरनेशनल इलेक्ट्रोटेक्निकल कमीशन का यह एक ज्वाइंट वर्किंग ग्रुप है। इसका उपयोग अक्सर .jpg या .jpeg जैसे फाइल एक्सटेंशन के साथ किया जाता है। कंप्रेशन टेक्‍नोलाजी की वजह से JPEG का उपयोग ज्यादातर इंटरनेट पर फोटो भेजने के लिए किया जाता है।

JPEG की खासियत यह है कि इसे कई फार्मेट में बदला जा सकता है। JPEG Format के लिए अधिकतर उपयोग किए गए एक्सटेंशन है – .jpeg, .jpg, .jpe, .jif, JFIF आदि।

JPEG क्यों ज़रूरी है?

बड़े साइज की इमेज को डाउनलोड करने में डाटा और वक्त दोनों ही अधिक खर्च होते हैं। ऐसे में यह कंप्रेशन टेक्‍नोलाजी बड़े काम आती है। बेशक इन दिनों डाटा क्रांति है और कई मोबाइल कंपनियां रोज डेढ़ जीबी डाटा तक ग्राहकों को मुफ्त प्रोवाइड करा रही हैं, इसके बावजूद वक्त बचाने के लिए इमेज को कंप्रेस करके भेजना बहुत फायदेमंद होता है।

पब्लिशिंग हाउसेज में खास तौर पर यह तकनीक बहुत इस्तेमाल होती है। फोटो को समुचित साइज में प्राप्त कर उसको सही पिक्‍सेल में प्रकाशित करना एक जिम्मेदारी भरा काम होता है। कई बार यह भी होता है कि रिजाल्यूशन इतना कम होता है कि फोटो किसी काम नहीं आती। खराब फोटो लगाने से बेहतर यही समझा जाता है कि फोटो को प्रकाशित ही न किया जाए।

ई-मेल से अगर इमेज भेजी जा रही है, उसमें भी उसका बड़ा साइज मुसीबत का सबब बनता है। इसे ऐसे भी समझा जा सकता है कि जैसे रमन को एक फोटो अपने दोस्त को भेजनी है। वह दो एमबी की फाइल है। इसे भेजने में वक्त लगेगा। ऐसे में रमन कंप्रेस करके इसका साइज कुछ केबी में बदलकर अपनी और अपने दोस्त दोनों की मुश्किल आसान कर सकता है। यही वजह है कि इमेज को कंप्रेस करके भेजा जाना ही बेहतर रहता है।

इसमें कोई दो राय नहीं कि JPEG की वजह से काम बहुत आसान हुआ है।

ये भी जाने

JPEG पोस्ट पर हमारी राय

इस पोस्ट में हम ने जाना की JPEG क्या है, JPEG के फायदे, JPEG format और JPEG full Form in Hindi के बारे में।

हमे कमेंट में बताये की आपको हमारी पोस्ट कैसी लगी? कोई सवाल हो तो ज़रूर पूछे।

सीखो सिखाओ, India को digital बनाओ

Leave a Reply

error: