ISRO full form in Hindi – ISRO क्या है?

ISRO full form – Indian space research organisation

बचपन से ही चांद, तारों की दुनिया हर किसी को लुभाती है। मां लोरी गाते हुए चंदा मामा दूर के सुनाती है तो वहीं मुहब्बत के जमानों में चांद में माशूक का चेहरा नजर आता है। इसी चांद पर 1969 में नील आर्म स्ट्रांग ने कदम रखा तो दुनिया के लोगों में अंतरिक्ष की दुनिया को लेकर रुचि जगी।

अंतिरिष्क की दुनिया यानी चांद, तारों,, आकाशगंगा की दुनिया। राकेश शर्मा भारत के पहले अंतरिक्ष यात्री थे। वह एयरफोर्स के स्‍क्वाड्रन लीडर थे। विज्ञान पढ़ने वाले कई छात्र अंतरिक्ष विज्ञान पढ़ने में दिलचस्पी दिखाते हैं। कई इसकी पढ़ाई के लिए विदेश का रुख करते हैं। भारत में अंतरिक्ष से जुड़ी तकनीकी गतिविधियों को इसरो यानी ISRO अंजाम देती है। आज हम आपको ISRO full form in Hindi, इसके काम और अन्य बिंदुओं के बारे में बताएंगे –

ISRO full form in Hindi

 ISRO एक स्पेस organisation है तो जानते है ISRO full form in Hindi के बारे में.

ISRO full form in Hindi

ISRO की फुल फार्म Indian space research organisation

ISRO in Hindi – इंडियन स्पेस रिसर्च आर्गेनाइजेशन

ISRO meaning in Hindi – भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन ।

इसकी स्‍थापना आज से करीब चालीस साल पहले 1969 में हुई। इसका मुख्यालय बंगलूरू (कर्नाटक) में है।

ISRO के काम क्या है?

ISRO का मुख्य काम भारत के लिये अंतरिक्ष से संबंधित तकनीक मुहैया कराना है। उसके अंतरिक्ष कार्यक्रमों में उपग्रह, राकेट, लैंड सिस्टम का डेवलपमेंट शामिल है। भारत में अंतरिक्ष से जुड़े काम शुरू करने का श्रेय डा. विक्रम साराभाई को जाता है।

ये भी जाने –

ISRO की History

भारत का पहला उपग्रह आर्यभट्ट था। इसे 19 अप्रैल, 1975 को कक्षा में स्‍थापित किया गया। इसके पीछे मदद का हाथ सोवियत संघ का था।

इसका नाम भारतीय गणितज्ञ आर्यभट्ट के नाम पर रखा गया। हालांकि पांच दिन बाद इसने काम करना बंद कर दिया। लेकिन ये अपने आप में भारत के लिये एक बड़ी उपलब्धि थी।

सात जून, 1979 को भारत ने 445 किलो का दूसरा उपग्रह भास्कर पृथ्वी की कक्षा में स्थापित किया।

1980 में रोहिणी उपग्रह पहला भारतीय-निर्मित प्रक्षेपण यान एसएलवी -3 बन गया।

जनवरी 2014 में इसरो ने सफलतापूर्वक जीसैट -14 के एक और जीएसएलवी-डी 5 प्रक्षेपण में एक स्वदेशी क्रायोजेनिक इंजन का प्रयोग किया।

ISRO का दूसरे देशो से सम्बन्ध

भारत न सिर्फ अपनी अंतरिक्ष संबंधी आवश्यकताओं की पूर्ति करने में सक्षम है बल्कि दुनिया के बहुत से देशों को अपनी अंतरिक्ष क्षमता से व्यापारिक और अन्य स्तरों पर सहयोग कर रहा है। इसरो ने   चंद्रयान को अंतरिक्ष में भेजने के साथ ही मंगलयान (मंगल आर्बिटर मिशन) को सफलतापूर्वक उसकी कक्षा में स्‍थापित किया है,  पहली कोशिश में ऐसा करने वाला भारत पहला देश है।

ISRO की उपलब्धिया

इसरो को शांति, निरस्त्रीकरण और विकास के लिए साल 2014 के इंदिरा गांधी पुरस्कार से सम्मानित किया गया। मंगलयान को सफलतापूर्वक छोड़े जाने के लगभग एक वर्ष बाद इसने 29 सितंबर, 2015 को एस्ट्रोसैट के रूप में भारत की पहली अंतरिक्ष वेधशाला भी स्थापित की।

ये भी जाने –

ISRO पोस्ट पर हमारी राय

अंतरिक्ष में लोगों की दिलचस्पी अभी भी कम नहीं। भारतीय अंतरिक्ष यात्री राकेश शर्मा के अनुभवों पर आधारित फिल्म ‘चंदा मामा दूर के’ भी पाइप लाइन में है। इस फिल्म के जरिये भी अंतरिक्ष के कई रहस्य 77 एमएम के पर्दे के जरिये लोगों के सामने होंगे।

इस पोस्ट में हम ने जाना की ISRO क्या है और ISRO full form in Hindi. हमे comment में बताये की आपको ये पोस्ट कैसी लगी.

Leave a Reply

error: