ISI full form in Hindi – ISI क्या है?

ISI full form – Indian Standard Institute

आप कोई भी उपकरण खरीदने बाजार जाते हैं तो देखते होंगे कि बिजली के उपकरणों या दूसरी कई चीजों पर आईएसआई यानी ISI की मुहर लगी है। क्या आप भी यह मुहर देखकर सोचते है कि यह मुहर क्यों लगी है? ISI का मतलब क्या है?

तो आज हम आपको इसकी फुल फार्म बताएंगे और साथ ही यह भी बताएंगे कि इसका इस्तेमाल कहां और क्यों किया जाता है। तो आइए समझते हैं-

ISI full form in Hindi

ISI mark quality check के लिए होता है तो जानते है ISI full form in Hindi के बारे में.

ISI full form in Hindi

ISI की फुल फार्म है – Indian Standard Institute

ISI in Hindi – इंडियन स्टैंडर्ड इंस्टीट्यूट.

इसे हिंदी में भारतीय मानक संस्‍थान भी पुकारा जाता है।

ISI के काम

दरअसल, एक मार्क या लोगो है, जिसे भारत में बनी वस्‍तुओं को बेचने के लिए लगाया जाता है। यह इस बात का प्रतीक है कि अमुक प्राडक्ट या उत्पाद को बेचने के लिए सरकारी की इजाजत है। इसे क्वालिटी के मकसद से जांच लिया गया है। यह प्राडक्टर पर भरोसे का प्रतीक माना जाता है। ग्राहकों आईएसआई मार्क देखकर ही उत्पाद खरीदने की सलाह दी जाती है।

ये भी जाने –

ISI की शुरुआत

आपको बता दें कि ISI यानी भारतीय मानक संस्‍थान की स्थापना पहली जनवरी, 1987 को हुई थी। उस वक्त इसे bureau of Indian standard institute यानी बीआईएसआई के नाम से जाना जाता था। बाद में इसे बदलकर आईएसआई कर दिया गया।

सामान खरीदते हुए देखें ISI की मुहर

अगर आप बाजार से कोई सामान खरीद रहे हैं तो उस पर आईएसआई की मुहर जरूर देखें। अगर यह मुहर नहीं है तो मान लें कि इसकी क्वालिटी का कोई अता-पता नहीं है। यह सामान नकली भी हो सकता है।

ISI के फायदे

यह भी आपको बता दें कि अगर कोई कम्पनी अपने प्राडक्ट या उत्पाद को बाजार में बिक्री के लिए उतारना चाहती है तो उसे सबसे ISI से अपनी सभी प्राडक्ट्स की जांच करानी होती है। वह इसकी क्वालिटी को चेक करता है। और हर तरह की जांच से गुजारने के बाद ही उस पर ISI का मुहर लगाता है। साथ ही उस कंपनी को ISI सर्टिफिकेट यानी प्रमाण-पत्र दिया जाता है।

अगर आप भी होशियारी बरतें तो कई तरह के फर्जीवाड़े से बच सकते हैं। खाने-पीने और रोज मर्रा की उपयोग की वस्तुएं खरीदते समय उन पर ISI की मुहर जरुर चेक कर लें। इससे आपके लिए असली-नकली उत्पाद की पहचान करना और असली वस्तु की खरीदारी संभव हो सकेगी।

ये भी जाने –

ISI पोस्ट पर हमारी राय

सरकार भी अपनी तरफ से क्वालिटी प्राडक्ट खरीदने के लिए ग्राहकों को जागरूक करने का काम करती रहती है। इसी सिलसिले में वह विज्ञापन भी करती है। ग्राहकों को बताती है कि वह केवल ISI की मुहर वाले सामान ही खरीदें।

वह कई कलाकारों के जरिये यह बताती है कि किस तरह ग्राहक असली-नकली सामान में फर्क कर सकता है और अपनी जिंदगी को नकली उत्पादों से बचा सकता है, जो ‌कि पैसे की बर्बादी के सिवाय कुछ नहीं होता।

इस पोस्ट में हम ने जाना की ISI क्या है और ISI full form in Hindi.

Leave a Reply

error: