DVD full form – DVD क्या है?

दोस्तों वैसे तो DVD आज के समय में बिल्कुल लुप्त हो चुका है लेकिन अगर बात करें कुछ साल पहले की तो यह लोगों के Entertainment का एक महत्वपूर्ण साधन हुआ करता था। अगर आपको याद हो तो आज से कुछ सालों पहले कोई भी फिल्म देखनें के लिए या फ़िर गाना आदि सुनने के लिए आप DVD का ही Use करते थे।

गोल आकार की एक छोटी सी प्लेट में हमारी पसन्द के सभी गाने तथा फिल्में हुआ करती थी जिसे हम घर में DVD प्लेयर में लगाकर मनपसन्द Music सुनने के साथ साथ ही फ़िल्म आदि देखने के लिए भी प्रयोग करते थे। लेकिन आज के इस नए जमाने में जब DVD की जगह मोबाइल फ़ोन तथा कंप्यूटर आदि में लगे हुए Memory कार्ड ने ले ली है तो DVD एकदम ग़ायब सा हो गया है।

दोस्तों आप में से बहुत से लोगों ने DVD को ना सिर्फ देखा होगा बल्कि उसका प्रयोग भी गाने सुनने तथा फिल्में आदि देखनें के लिए किया होगा। लेकिन अगर बात करें DVD के फुल फॉर्म की तथा इसका आविष्कार कब हुआ आदि संबंधी जानकारियों की तो बहुत कम लोगों को ही इसके बारे में कुछ पता होगा। इसीलिए आज हम आपको ना सिर्फ DVD का फुल फॉर्म बताएंगे, बल्कि इससे जुड़ी अन्य सभी महत्वपूर्ण जानकारियां भी आपको देंगे। इस क्रम में आइये सबसे पहले जान लेते हैं कि DVD Full form क्या होता है।

DVD full form in Hindi

DVD का फुलफॉर्म – Digital Video Disc 

DVD in Hindi डिज़िटल वीडियो डिस्क Or Digital Versatile Disc ( डिज़िटल वर्सटाइल डिस्क)

DVD की शुरुआत

DVD की खोज और विकास साल 1995 में हुआ इसके बाद धीरे-धीरे हैं पूरी दुनिया में बहुत तेजी से Data को Store करने के लिए इसका Use किया जाने लगा। DVD की Storage Capacity कॉम्पैक्ट डिस्क यानी की CD से अधिक हुआ करती थी।

ये भी जाने

DVD के types

अलग-अलग Type की DVD की Storage Capacity भी अलग़ -अलग होती थी। Market में DVD 4.7 GB, 8.5GB, 9.4GB तथा 17.8 GB की Storage Capacity के साथ उपलब्ध है।

DVD के Disadvantages

DVD के Storage का एक बड़ा Disadvantage ये है इसमें Data को सिर्फ़ Store किया जा सकता है। एक बार Data Store करनें के बाद उसे Erase नहीं किया जा सकता। इसमें Store Data को DVD player की मदद से ही देखा और सुना जा सकता था। कम्प्यूटर के शुरुआती दिनों में जब इसकी Storage Capacity बहुत कम हुआ करती थी तो इस समय DVD की खोज़ ने क्रान्ति सी ला दी थी।

डीवीडी का निर्माणशुरुआत में DVD का निर्माण Sony, Samsung, Phillips, तथा Toshiba की कंपनी ही किया करती थी। DVD का विस्तार जितनी तेजी से हुआ उतनी ही तेजी से यह Market से गुम भी हो गया।

Use के आधार पर DVD को निम्न प्रकार से Devide किया गया है।

1. DVD-ROM –

इस DVD का Use सिर्फ पढ़ने के लिए ही किया जाता है। इसमें कुछ Edit नहीं किया जा सकता है।

2. DVD-RW –

इस प्रकार के DVD में संग्रहित Data को पढ़ने और लिखने के साथ ही इसे Erase भी किया जा सकता है। इसके साथ ही इसमें दोबारा से भी Data लोड किया जा सकता है।

3. DVD-R –

DVD -R का Use सिर्फ़ किसी Data को इसमें Record करनें के लिए ही किया जाता है।

अगर बात की जाए DVD के Dimenson आदि की तो आपको बता दें कि इसके Plate का Diameter 12 CM यानी कि 120MM तथा 8 CM यानी कि 80MM में आता है।

घरों में Video देखनें व Music सुननें के लिए प्रयोग किया जाने वाला DVD 12CM यानी की 120MM का होता है।
वहीं Video Camera आदि में Use होने वाला DVD का Diameter 80 MM का होता है।

ये भी जाने

DVD पोस्ट पर हमारी राय

दोस्तों आज के समय में DVD बहुत कम ही Use में दिखायी पड़ता है। लेकिन एक समय ऐसा था जब हर घर में DVD Player होता था और लोगो द्वारा Music सुननें और फ़िल्म देखनें के लिए इसी DVD का ही Use किया जाता था। अब Memory Card तथा अन्य Storage Device की खोज़ के बाद DVD की दुनिया अब ख़त्म हो गयी है।

इस पोस्ट में हम ने जाना DVD क्या है इसके काम और DVD full form in Hindi. हमे comment में बताये की आपको ये पोस्ट कैसी लगी. कोई सवाल हो तो ज़रूर पूछे.

सीखो सिखाओ, India को digital बनाओ

Leave a Reply

error: