BC full form in Hindi – BCE क्या बताता है?

BC Full form – Before Christ

BCE Full Form – Before Common Era

दोस्तों BC एक ऐसा शब्द है जो हम सभी अक्सर ही सुनते रहते हैं। हम सभी स्कूल के समय से ही History की Class में ये शब्द सुनते रहते हैं।

ऐसे में अगर आपने कभी History की Class लगायी होगी तो उसमें BC के बारे में जरूर सुना होगा। अगर आपसे पूछा जाए कि BC full form क्या है तथा इसका BC का अर्थ क्या होता है?, तो बहुत कम लोगो के पास ही BC से जुड़े इन सवालों के जवाब होंगे।

आप भी BC से जुड़े इन सवालों के जवाब जानना चाहते हैं तो इस Article को अन्त तक जरूर पढ़ें, क्योंकि आज के इस Post में हम आपको BC से जुड़ी सारी Important बाते बताने वाले हैं।

इस क्रम में आइये सबसे पहले जानते हैं कि BC का फुलफॉर्म क्या होता है?

BC full form in Hindi

BC फुलफॉर्म – Before Christ

BC in Hindi – बिफॉर क्राइस्ट

दोस्तों BC को अक्सर BCE के नाम से भी जाना जाता है। ऐसे में आइये BCE का भी फुलफॉर्म जान लेते हैं।

BC फुलफॉर्म – Before Common Era

BCE in Hindi – बिफॉर कॉमन एरा

BCE का इस्तेमाल

दरअसल BC या BCE का प्रयोग History में प्राचीन समय को दर्शाने म लिए किया जाता है। History में समय को दर्शाने के लिए ईसा मसीह के जन्म को आधार बनाया गया है।

अतः ईसामसीह के जन्म के पहले के समय को BC यानी कि Before Christ अथवा Before Common Era (BCE) के रूप मर जाना जाता है। वहीं ईसामसीह के जन्म के बाद के समय को CE (Common Era) या फ़िर AD के नाम से भी जाना जाता है।

BCE की शुरुआत कैसे हुई?

दोस्तों यहाँ पर आपको बता दे कि History में Time Period को दर्शाने के लिए BCE तथा CE का प्रयोग यूरोपीय इतिहासकारों द्वारा ही शुरू किया गया था। चूँकि दुनिया के लगभग सभु History के Books में Time को BCE तथा CE में ही बताया गया है इसलिए हम आज भी इतिहास के समय को BCE तथा CE की मदद से ही जानते है।

क्या है calculate करने का तरीका

यहाँ पर आपको ये भी बता दें कि, Christ यानी की ईसामसीह के जन्म के पहले का समय उल्टा चलता है तथा उनके जन्म के बाद के समय को बढ़ते क्रम की संख्या के साथ दर्शाया जाता है।

इतना तो हम जान ही गए हैं कि History में ईसामसीह के जन्म के पहले के समय को BCE तथा उनके जन्म के बाद के समय को CE की मदद से दर्शाया जाता है। अब अगर ईसामसीह के जन्म से 100 साल पहले के समय को को बताना है तो 100BCE लिखा जाएगा इसके आगे के समय यानी कि ईसा के जन्म के 90 साल के पहले के समय के लिए 90BCE लिख कर दिखाया जाएगा।

अतः हम जैसे जैसे समय मे आगे आते जायेंगे वो BCE के पहले के समय मे संख्या कम होती जाएगी। अब इसी तरह से अगर बात की जाए ईसा के जन्म के बाद के समय की तो ये बढ़ते क्रम में होती है।

जैसे कि अगर ईसा के जन्म के बाद के 100 साल बाद के समय को बताना है तो इसे CE100 लिखा जाएगा। वहीं अगर ईसा के जन्म के बाद के 90 साल बाद का समय बताना है तो इसे CE90 लिखकर बताया जाएगा।

अब अगर बात की जाए आज के समय से इसके तुलना की तो आज से पीछे चलने पर CE100 पहले आएगा उसके बाद ही BCE आएगा।

BCE और AD में फर्क क्या है?

दोस्तों BCE तथा CE से जुड़ी एक महत्वपूर्ण बात ये भी है कि जब भी कहीं पट ईसा से पहले के समय के बारे में बताना होता है तो ‘BCE’ के बाद साल की संख्या लिखी जाती है। जैसे कि- BCE100 या BCE90 आदि।

वहीं अगर ईसा के जन्म के बाद के समय को बताने के लिए पहले साल लिखा जाता है उसके बाद CE या फ़िर AD। जैसे कि- 100AD या 100CE।

ऐसा इसलिए क्योंकि CE या AD ईसा के बाद के समय है तथा BCE ईसा के पहले का समय है।

BC पोस्ट पर हमारी राय

इस पोस्ट में हम ने जाना की BC क्या है, BC और AD में फर्क और BC full Form in Hindi के बारे में।

Leave a Reply

error: