पैसे कैसे कमाए

आज से कुछ महीनो महीनो पहले में मेने एक हिंदी वेबसाइट पर काम किया था.
मतलब साफ़ था.

की 99% लोग अपने ही देश के वेबसाइट पर आयेगे.
अब इस से पहले जब भी मुझे कोई दिक्कत आती थी, तो में सबकी तरह, सबसे पहले Google करता था, और Google बाबा सब परेशानी का हल बता देते थे.
पर:

हिंदी वेबसाइट बनाते वक़्त जब भी मुझे कोई दिक्कत आई और में Google पर इंडिया के लोगो के बारे में कुछ भी search करता तो मुझे कोई जवाब नहीं मिलता.
क्यों?

क्युकी इंटरनेट पर websites हिंदी में न होकर english में है, और India के लोगो के बारे में कम और बाहर के लोगो के बारे में ज़्यादा है.

जब भी आप कुछ सर्च करेंगे तो आपको जवाब तो मिलेंगे, पर वो इंडियन audience के बारे में नहीं होंगे.
ऐसा क्यों है ?

China की population 1,41 करोड़ है और india की 1,34 करोड़ . India और China की population में कुछ ज़्यादा फर्क नहीं है,.

पर china के पास Google जैसा search engine Baidu है और Facebook जैसी social media वेबसाइट WeChat है.

एक website या application को successful होने लिए ज़रूरत होती है लोगो की.

अब china की population सबसे ज़्यादा है और वो लोग अपने देश की चीज़ो को दूसरे देश को चीज़ो से ज़्यादा पसंद करते है. तो उनकी अपनी websites chinease language में चल रही है. और कामयाब है.

पर हमारे देश में ऐसा नहीं है. हम अपने देश की चीज़ो से ज़्यादा दूसरे देशो की चीज़ो को ज़्यादा पसंद करते है. यही वजह हे की पूरी दुनिया में भारत दूसरे नंबर आता है जहां english सबसे ज़्यादा बोली जाती है.

पर:

ये अच्छी बात नहीं है,
इसका नुक्सान ये हुआ है आज इंडिया में हिंदी समझने वाले सबसे ज़्यादा लोग है पर हमारे पास हिंदी की उतनी websites नहीं है. जितनी होनी चाहिए.

आज हर दिन इंडिया में नए लोग internet से जुड़ते है, पर जब वो कोई जानकारी गूगल करते होंगे तो उन्हें दिक्कत आती हो होगी, acha content ढूंढ़ने में क्युकी सारी बड़ी sites english में.

इंटरनेट पर ज़्यादार content बाहर की audience को focus कर बनाया जाता है.

तो:

Indian Marketer एक कोशिश है, उन लोगो की मदद करने के लिए जो हिंदी बोलना ज़्यादा पसंद करते है (जो की भारत में ज़्यादा लोग करते है ).
ये वेबसाइट बनाई गई है उन लोगो के लिए जो जानना चाहते है

  • Online पैसे कमाने के बारे में
  • Offline पैसे कमाने के बारे में
  • Social Media
  • Website बनाना
  • blogging करना
  • Search engine optimization
  • ऑनलाइन advertisement
  • WordPress
  • E-commerce
  • Cryptocurrency
  • शेयर मार्किट

ज़्यादातर डिजिटल marketer जो अपना career digital मार्केटिंग में बनाना चाहते है वो बस job के पीछे भागते है, जबकि Digital marketing एक बहुत acha option है अपनी 9 -5 की जॉब से बाहर आकर अपना boss हूद बनने की.

यहाँ हम बात Internet की उन जानकारिओं की, जो हमे पता होने चाहिए
तो चलिए कुछ सीखते है कुछ सीखते है, India को डिजिटल बनाते है.